नुसरत भीड़ तो खूब जुटा रही हैं, लेकिन क्या ये भीड़ वोट में तब्दील हो सकेगी?

225

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की बशीरहाट लोकसभा सीट पर इस बार तृणमूल कांग्रेस की उम्मीदवार नुसरत जहां, भाजपा के सायंतन बसु, कांग्रेस के काजी अब्दुर रहीम और सीपीआई के पल्लभ सेन गुप्ता के बीच मुकाबला है। तृणमूल कांग्रेस ने यहां प्रत्याशी चुनने के लिए स्टार फॉर्मूले का इस्तेमाल करते हुए मशहूर टॉलीवुड अभिनेत्री नुसरत जहां पर दांव खेला है।

नुसरत जहां – फोटो : Social media

इन दिनों राज्य में चुनाव प्रचार भी जोर-शोर से चल रहा है। इस दौरान लोगों के बीच नुसरत जहां के ग्लैमर और चुनाव प्रचार के फिल्मी अंदाज का खासा असर देखने को मिल रहा है। आगे की स्लाइड में देखिए नुसरत कैसे कर रही हैं चुनाव प्रचार। दरअसल नुसरत जहां कहीं भी रैली करने जाती हैं वहां उनके फैंस की भीड़ जमकर उमड़ती है। कोई उनके साथ फोटो खिंचाना चाहता है, तो कोई उनसे उनकी ही फिल्म का गाना सुनना चाहता है।

नुसरत बड़े आराम से अपने फैंस की मांगों को पूरा करती हैं। बुधवार को भी कुछ ऐसा ही हुआ, जब वो टीएमसी उम्मीदवार बीरबाहा सोरेन के लिए प्रचार करने झाड़ग्राम गई थीं। कार्यक्रम के बाद स्टेज पर उनके साथ सेल्फी लेने वाले लोगों की ऐसी होड़ लगी कि वजन के कारण पूरा स्टेज ही टूट गया।

नुसरत जहां – फोटो : Social media

हालांकि, स्टेज बहुत ऊंचा नहीं था, लिहाजा किसी को चोट नहीं पहुंची। इससे पहले भी पश्चिम बंगाल की कई रैलियों में नुसरत जहां अपने टॉलीवुड अंदाज के साथ-साथ सियासी अवतार में नजर आती रही हैं। मिनाखा में अपनी रैली में उन्होंने मंच से आवाज लगाकर लोगों से पूछा कि इस बार उनकी जीत कितने वोटों के अंतर से होगी। इस पर जनता ने चिल्ला कर जवाब दिया, तीन लाख।

नुसरत भीड़ तो खूब जुटा रही हैं लेकिन बड़ा सवाल यही है कि क्या ये भीड़ वोट में तब्दील हो सकेगी? क्षेत्र में नुसरत जहां का जलवा तो नजर आ ही रहा है, लेकिन यह भी जानना उतना ही जरूरी है कि आखिर बशीरहाट का सियासी समीकरण क्या कहता है? बशीरहाट लोकसभा सीट पर कभी लेफ्ट ने लगातार तीन दशकों तक राज किया था। यहां की जनता ने सीपीआई के लोकप्रिय नेता इंद्रजीत गुप्त को भी चुनकर जिताया था।

Related image

नुसरत जहां –  फोटो : Social media

लेकिन इस बार यहां भाजपा भी नजर गड़ाए बैठी है। बशीरहाट में मुस्लिम समुदाय के लोगों की आबादी अधिक है। करीब आधे वोटर मुस्लिम समुदाय से आते हैं। माना जा रहा है यहां से नुसरत जहां को चुनाव में उतारने के कारण तृणमूल कांग्रेस को इन वोटों का फायदा मिल सकता है। अगर ऐसा होता है तो भाजपा को यहां नुकसान झेलना पड़ सकता है।

2014 के लोकसभा चुनावों में भी बशीरहाट लोकसभा सीट पर तृणमूल कांग्रेस ने 38.65 प्रतिशत मतों के साथ अपना झंडा फहराया था, जबकि सीपीआई को 30.04 प्रतिशत वोट मिले थे। वहीं भाजपा को 18.36 फीसदी वोटों से ही संतुष्टि करनी पड़ी थी, जबकि कांग्रेस लगभग 8 प्रतिशत वोटों में ही सिमट गई थी। वर्तमान में यहां से तृणमूल कांग्रेस के इदरीस अली सांसद हैं।

Image result for नुसरत जहां

नुसरत जहां – mumta फोटो : Social media

Source link

Please follow and like us: