आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर टैक्टर-ट्राली से टकराकर पलटी यात्री बस 5 की मौत 3 दर्जन से अधिक हुए घायल

42

“आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे एक बार फिर बना मौत का एक्सप्रेस-वे” लगातार हो रहे हादसे, हादसों से बचने के लिये प्रशासन ने नही उठाया कोई ठोस कदम,
बांगरमऊ उन्नाव।

कोतवाली क्षेत्र के लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर देवखरी गाँव के समीप शनिवार भोर पहर एक बार फिर से रफ्तार का कहर देखने को मिला। ट्रैक्टर ट्रॉली से टकराकर तेज रफ्तार यात्री वॉल्वो बस के पलट गयी।जिमसें से पांच लोग काल के गाल में समा गये।उनकी की मौके पर ही मौत हो गयी, जबकि तीन दर्जन से ज्यादा लोग घायल हैं।गंभीर रूप से घायल यात्रियों को इलाज के लिए ट्रामा सेंटर लखनऊ व उन्नाव भेजा गया है। वही पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु जिला अस्पताल भेज दिया गया।

जानकारी के अनुसार हरियाणा प्रांत के गुरुग्राम से मधुबनी बिहार जा रही एक निजी बस शनिवार भोर पहर कोतवाली क्षेत्र के देवखरी गांव के समीप आगरा लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर
एक तरबूज लदी एक ट्रैक्टर ट्राली पलटी हुई पड़ी थी। तेज गति से आ रहा चालक मार्ग के बीचो-बीच पलटी ट्रैक्टर ट्राली को देखकर बस से अपना नियंत्रण खो बैठा,जैसे ही ब्रेक लिया तो लगे बैरिकेटिंग से टकराकर बस पलट गयी। बस के पलटते ही यात्रियों में चीख-पुकार मच गयी। ग्रामीणों की सूचना पर यूपीड़ा टीम और 100 डायल पुलिस घटनास्थल पर पहुंचे, और राहत बचाव कार्य चालू कर बस के शीशे तोड़कर किसी तरह घायल यात्रियों को बाहर निकाला। बस में करीब 5 दर्जन सवारियां बैठी थी।जिसमे रंजीत यादव 45 पुत्र दुखीलाल मेहता निवासी डल्लापुर मधुवनी बिहार, मनीष 10 पुत्र विष्णु मधुवनी बिहार, नंदिनी पुत्री विनोद यादव मधुवनी बिहार, वहीं दो बच्चों की समाचार लिखें जाने तक पहचान नहीं हो सकी थी। जो लगभग एक बच्चा 7 वर्ष तथा दूसरा 16 वर्ष का था,जो एक लोगो की हादसे में मौत हो गयी।

हादसे में 4 बच्चों सहित कुल 5 की घटनास्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गयी।
जबकि तीन दर्जन यात्री गंभीर रूप से घायल हो गए। सूचना पर क्षेत्रों की कई एंबुलेंस के अलावा 108 एंबुलेंस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस और यूपीडा कर्मियों ने किसी तरह बस के शीशे तोड़- तोड़ कर घायल यात्रियों को बाहर निकाला। लेकिन फिर भी पांच यात्रियों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। जबकि बाकी सभी घायल यात्रियों को यूपीडा और 108 एंबुलेंस के जरिए नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। जहां सभी की हालत नाजुक होने के चलते यात्रियों को ट्रामा सेंटर लखनऊ व जिला अस्पताल उन्नाव रेफर कर दिया गया। घायलों में चार की हालत गंभीर बताई जा रही है। वही फिलहाल पुलिस मृतकों की शिनाख्त कर उनके परिजनों संपर्क करने की कोशिश कर रही है। इस हादसे के बाद लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस पर जाम लग गया। क्रेन की सहायता से बस को हटाकर यातायात को शुरू करवाया गया।

‘एसओ अरविन्द सिंह ने बताया’
वॉल्वो बस नंबर UP83BT4106 दिल्ली से बिहार के मधुबनी जा रही थी. इसी बीच ट्रैक्टर ट्रॉली से बचने के कोशिश में अनियंत्रित होकर बस पलट गई। उन्होंने बताया कि घायलों को पहले उन्नाव के जिला अस्पताल में भर्ती कराया, जहां से गंभीर रूप से घायलों को लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर किया गया है।
मृतकों के शवो को कब्जे में लेकर पोस्टमाटर्म हेतु जिला अस्पताल भेजा गया।

Source link