1977 में इंदिरा गांधी को हटाने की बात मन में रखकर जनता ने किया था मतदान, जबकि इस बार……!

14

नई दिल्ली । छठें चरण का मतदान के खत्म होने के साथ ही अब लोकसभा चुनाव अपने अंतिम चरण में पहुंच गया है। इस बीच केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने दावा किया कि 1977 के चुनाव के बाद यह पहला चुनाव है जिसमें जनता सीधे प्रधानमंत्री को ध्यान में रखकर मतदान कर रही है। 1977 में प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को हटाने की बात मन में रखकर जनता ने मतदान किया था, जबकि इस बार नरेंद्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाने के लिए जनता मतदान कर रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा को इस लोकसभा चुनाव में 300 से अधिक सीटें हासिल होंगी। उन्होंने इसे भारतीय चुनावी इतिहास की बड़ी घटना बताया।

भाजपा नेता प्रकाश जावड़ेकर ने रविवार को मतदान के बाद एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि अब तक के चुनाव में मतदाताओं के रुझान को देखकर यह स्पष्ट हो गया है कि जनता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दोबारा पीएम बनते देखना चाहती है। उन्होंने यूपी-बिहार जैसे राज्यों में हुए गठबंधन की बातों को बिल्कुल निराधार बताया और कहा कि जनता के मूड के आगे कोई गठबंधन कामयाब नहीं होने जा रहा है। और इन राज्यों सहित पूरे देश में भाजपा को जनता का बड़ा समर्थन मिल रहा है।

पश्चिम बंगाल में हुई हिंसा को पार्टी ने ममता बनर्जी के शासन के खात्मे का संकेत बताते हुए इसकी आलोचना की है। पश्चिम बंगाल में भाजपा की उम्मीदवार घोष के साथ कथित तौर पर हिंसा हुई है। मतदान के इस चरण में पश्चिम बंगाल में चुनावी हिंसा में दो लोगों के मारे जाने की भी खबर है। भाजपा ने इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की है।

Source link