Hatras Case : बिना मास्क पहने SDM पर चिल्लाने वाली ‘आज तक’ की पत्रकार को हुआ कोरोना

178
Hatras Case : बिना मास्क पहने SDM पर चिल्लाने वाली ‘आज तक’ की पत्रकार को हुआ कोरोना
Hatras Case : बिना मास्क पहने SDM पर चिल्लाने वाली ‘आज तक’ की पत्रकार को हुआ कोरोना

उत्तर प्रदेश के हाथरस मामले पर कवरेज करने वाली समाचार चैनल ‘आज तक’ की पत्रकार चित्रा त्रिपाठी कोरोना पॉजिटिव पाई गई हैं। उन्होंने ट्विटर पर अपने फॉलोवर्स को इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कुछ कोरोना संक्रमित लोगों के संपर्क में आने के बाद वह कोविड पॉजिटिव पाई गई हैं।

चित्रा त्रिपाठी ने लिखा, “हाथरस में, मैं कुछ कोरोना पॉजिटिव लोगों के संपर्क में आई। इसलिए एहतियातन मैंने अपना टेस्ट करवाया जो पॉजिटिव आया। हालाँकि कोरोना वायरस के कोई लक्षण नहीं है। मगर डॉक्टर की सलाह पर मैंने खुद को आइसोलेट कर लिया है। मैं उन सभी लोगों से अपील करती हूँ जो भी मेरे संपर्क में आया है वो अपना ख्याल रखे।”

उल्लेखनीय है कि चित्रा पिछले दिनों हाथरस मामले पर अपनी कवरेज के कारण काफी चर्चा में रह चुकी हैं। सोशल मीडिया पर वायरल होती उनकी वीडियो में उन्हें एसडीएम प्रेम प्रकाश मीणा से बेहद अजीब ढंग से बात करते देखा गया। अपने हाथ में माइक लेकर और कैमरे की ओर देखते हुए चित्रा ने अधिकारी पर बदसलूकी का इल्जाम लगाया और पूछा कि उनकी हिम्मत कैसे हुई पत्रकार को उनका काम सिखाने की।

वीडियो में चित्रा को बिना मास्क लगाए चिल्लाते देखा जा सकता है। वह आईएस अधिकारी पर इल्जाम लगाती हैं कि उन्होंने पत्रकार को धमकी दी, उनसे बदसलूकी। महिला पत्रकार ने यह इल्जाम भी लगाया कि मीणा अपना फर्ज निभाने में असमर्थ हैं जबकि उन्होंने अच्छी खासी पढ़ाई की है।

वहीं, युवा अधिकारी को वीडियो में कोरोना बचाव हेतु जारी की गई गाइडलाइन का पूर्ण रूप से पालन करते देखा जा सकता है। वह चित्रा के पूरे मेलोड्रामा पर एक शब्द भी नहीं बोलते और गाड़ी से सटकर खड़े रहते हैं। दिलचस्प बात यह है कि सुनने वाला सभी नियमों का पालन करता दिख रहा है और चिल्लाने वाला हर नियम का उल्लंघन कर रहा है।

जब चित्रा ने अपने ट्विटर पर अपने संक्रमण की पोस्ट साझा की तो एसडीएम प्रकाश मीणा ने उनकी जल्द ठीक होने की कामना की और कमेंट किया, “सत्यमेव जयते- सत्य जरूर जीतेगा।” अपने ट्वीट के हैशटैग में उन्होंने #karma (#कर्मा) लिखा।

इसके बाद इस ट्वीट को यूपी सीएम के सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी ने भी रीट्वीट किया जिसके कारण त्रिपाठी चिढ़ गईं और इसे शर्मनाक करार दिया। उन्होंने कहा:

“राज्य सरकार में कई मंत्रियों की मौत कोरोना से हो गई। केंद्र में एक मंत्री की जान चली गई। आपकी पार्टी के कई लोग कोरोना से संघर्ष कर रहे हैं। आप कोरोना पर किए गए इस व्यक्तिगत तंज को रीट्वीट कर रहे है। वो तो नया IAS है, जोश में है। आप ऐसी शर्मनाक हरकत क्यों कर रहे हैं।”

बता दें कि इससे पहले जब यूपी सरकार ने एसआईटी की जाँच के बाद मीडियाकर्मियों को गाँव में जाने की इजाजत दी थी, उस समय चित्रा त्रिपाठी गाँव की ओर रिपोर्टिंग के लिए भागती देखी गई थीं। उन्होंने दावा किया था कि मीडिया के दबाव में आकर सरकार ने उन लोगों को गाँव में प्रवेश की अनुमति दी है जबकि वास्तविकता में यह झूठ था। सरकार, मामले में एसआईटी की जाँच खत्म होने का इंतजार कर रही थी ताकि पड़ताल में कोई खलल न डले। इसलिए जैसे ही पूछताछ पूरी हुई मीडिया कर्मियों को वहाँ जाने की इजाजत दे दी गई।