चीन में जिनपिंग का मुस्लिमों पर कहर, 16000 मस्जिदें कर दी नेस्तनाबूद

ऑस्ट्रेलियाई रणनीतिक नीति संस्थान (ASPI) की रिपोर्ट के मुताबिक, तक़रीबन 16,000 मस्जिदों को नष्ट या क्षतिग्रस्त कर दिया गया था। रिपोर्ट में बताया गया है कि विगत तीन वर्षों में चीन ने इस हरकत को अंजाम दिया है और अनुमानित 8,500 मस्जिदें पूरी तरह से नेस्तनाबूद हो गई हैं।

80
चीन में जिनपिंग का मुस्लिमों पर कहर, 16000 मस्जिदें कर दी नेस्तनाबूद
चीन में जिनपिंग का मुस्लिमों पर कहर, 16000 मस्जिदें कर दी नेस्तनाबूद

बीजिंग। एक बार फिर मुस्‍लिम समुदाय पर चीन के अत्‍याचार की खबर प्रकाश में आई है। एक ऑस्ट्रेलियाई थिंक टैंक ने कहा कि रेस्टिव क्षेत्र में व्यापक मानवाधिकारों के हनन की नवीनतम रिपोर्ट में बताया गया है कि चीनी अधिकारियों ने शिनजियांग में हजारों मस्जिदों को ढहा दिया है।

अधिकार समूहों का कहना है कि उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र के कैम्प्स में दस लाख से ज्यादा उइगर और अन्य अधिकतर मुस्लिम तुर्क-भाषी लोगों पर अपनी पारंपरिक और धार्मिक गतिविधियों को छोड़ने के लिए दबाव बनाया गया है। सैकड़ों धर्म स्थलों और सांख्यिकीय मॉडलिंग के उपग्रह चित्रण के आधार पर एक ऑस्ट्रेलियाई रणनीतिक नीति संस्थान (ASPI) की रिपोर्ट के मुताबिक, तक़रीबन 16,000 मस्जिदों को नष्ट या क्षतिग्रस्त कर दिया गया था।

रिपोर्ट में बताया गया है कि विगत तीन वर्षों में चीन ने इस हरकत को अंजाम दिया है और अनुमानित 8,500 मस्जिदें पूरी तरह से नेस्तनाबूद हो गई हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि उरूमची और काशगर के शहरी केंद्रों के बाहर बहुत ज्यादा नुकसान हुआ है। कई मस्जिदों को तोड़ दिया गया था, उनके गुंबदों और मीनारों को गिरा दिया गया था। बता दें कि इससे पहले एक रिपोर्ट में दावा किया गया था कि चीन ने 80 लाख उइगर मुस्लिमों को कैद कर रखा है ।