कुशीनगर मे सकुशल सम्पन्न हुआ लोकसभा चुनाव

45

कुशीनगर। सातवें व अंतिम चरण मतदान के साथ चुनाव का महायज्ञ रविवार को सम्पन्न हुआ। कुशीनगर संसदीय सीट पर त्रिकोणीय लडाई के साथ सभी 14 प्रत्याशियों के भाग्य मतदाताओं ने 57 फीसदी मतदान कर ईवीएम मे कैद कर दिये। जिसकी मतगणना 23 मई को होगी और इस बार कुशीनगर की जनता किसे अपना रहनुमा चुन संसद भेजती है स्थिति साफ हो जायेगी। मतदान के दौरान सामान्य प्रेक्षक राजा शेखर, जिला निर्वाचन अधिकारी डा0 अनिल कुमार सिंह व पुलिस अधीक्षक राजीव नारायण मिश्र ने मतदान केन्द्र व बूथों का भ्रमण कर स्थिति का जायजा लेते रहे।

भारतीय जनतंत्र के ईतिहास मे 2019 का आम लोकसभा चुनाव अपने आप मे विशेष है कारण लाख कोशिशों के बाद यह नजारा देखने को मीला कि शोसल मशीनरी और जातिवाद की राजनीति आखिरकार विकास और खुशहाल भारत के आगे आकर बौने हो गये और इस बार मतदाताओं ने सभी दलों को सुना उनके हाँ मे हाँ मिलाई मगर जब बूथ पर पहुँचा तो अपने मन की आवाज के साथ ईवीएम का बटन दबाया इसलिए यह भी तय है कि सभी मीडिया रिपोर्ट्स और राजनैतिक दलों के नेताओं के भी समझ से परे होगी और परिणाम आयेंगे वे चौकाने वाले होंगे।

कुशीनगर मे भापजा के विजय दूबे, कांग्रेस के आरपीएन सिंह और सपा बसपा रालोद गठबंधन के प्रत्याशी नथुनी कुशवाहा के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है। सभी प्रत्याशी व उनके समर्थक अपने प्रत्याशी को जीतने का दावा कर रहे हैं फिलहाल अब जनता का असली फैसला 23 मई मतगणना के दिन ही होगा।

रविवार को सुबह 7 बजे से मतदान शुरू हुआ तेज धुप व गर्मी के कारण सुबह मतदाताओं की लम्बी कतारे लग गयी। पुरे जिले मे लगभग 1759974 मतदता है जिसमे 952174 पुरूष व 807660 महिला जबकि 140 अन्य है। मतदान के दौरान जिले के कई जगहों पर ईबीएम मशीन खराब होने की सूचना भी मिली। 9 बजे तक कुल 11.43 प्रतिशत मतदान हुआ हो सका था। इसी प्रकार 9 से 11 बजे तक 21.71, 11 से 1 बजे तक 35.14, 1 से 3 बजे तक 45.39 व 3 से 5 बजे तक 53.29 तथा 6 बजे तक 57 प्रतिशत मतदान मतदाताओं ने सभी 14 उम्मीदवारों के भाग्य
ईबीएम मे कैद कर दिया। इस प्रकार लोक सभा का सातवां व अंतिम चरण का मतदान कुशीनगर मे सकुशल सम्पन्न हो गया।

115 वर्षीय दलित महिला मैनी देवी ने अपने मताधिकार का किया प्रयोग

कुशीनगर। जिले के रामकोला विधान सभा क्षेत्र के रगडगंज बूथ पर एक दलित बुजुर्ग महिला 115 वर्षीय मैनी देवी अपना वोट देकर लोकतंत्र के इस पर्व मे भाग लिया। बाहर निकलती हुयी मैनी देवी ने बताया अंग्रेजी हुकमत का दर्द भी झेला है जब चैराचैरी कांड मे देश के क्रान्तिकारियों ने आततायी अग्रेंजी पुलिस वालों को थाने मे फूँक दिया था तब मै देखने गयी थी मैने देखा है गरीबी और आज का भारत। आज जो सरकार है उसके काम से खुश हूँ आज मेरे नाती को सरकारी नौकरी मिल गयी मुझे वृद्धा पेंशन मिल रहा मेरे बेटे को आवास मिला है कुल मिलाकर सरकार बढिया है अब मुझे पता नही है मै अगले पाँच मे शायद वोट देने के लिए जीवित रहूँ या ना रहूँ लेकिन देश आगे बढेगा बुजुर्ग 115 वर्षीय मैनी देवी हर दस कदम चलने पर हार जा रही थी उनके बेटे व बहू सहारा देकर बूथ तक ले गये थे।

जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट करते रहे निगरानी

कुशीनगर मे रविवार को सातवें व अंतिम चरण के मतदान को सकुशल सम्पन्न कराने के लिए रिजर्व सहित 149 सेक्टर व 21 जोनल मजिस्ट्रेट तैनात रहे तथा मतदान केन्द्रों पर घुम-धुम कर मतदान की स्थिति का जायजा लेते रहे। इसके अलावा 373 उप निरीक्षक, 870 मुख्य आरक्षी, 4070 आरक्षी, 6278 होमगार्ड,
11 सेक्शन पीएसी के जवान व 91 सेक्शन सीआरपीएफ के जवान तैनात किये गये थे जो शान्तिपुर्ण मतदान कराने मे अपना सहयोग दे रहे थे।

261 अतिसंवेदनशील बूथों पर होती रही वेबकास्टिंग

लोक सभा सामान्य निर्वाचन 2019 को शकुशल सम्पन्न कराने हेतु कुशीनगर संसदीय क्षेत्र के 7 विधानसभा क्षेत्रों के 261 अति संवेदनशील/संवेदनशील बूथों पर सहज जनसेवा संचालकों के उपस्थिति मे वेबकास्टिंग होती रही। वेबकास्टिंग की निगरानी जिला मुख्यालय स्थित कंट्रोल रूम से की जा रही थी।

दिव्यांगो के लिए भी की गयी थी व्यवस्था

मतदान केन्द्रों पर दिव्यांगजनों मे भी मतदान की होड़ देखी गयी। इसके लिए प्रशासन द्वारा पहले से ही सभी मतदान केन्द्रों पर रैंप, व्हील चेयर की व्यवस्था की गयी थी जिससे दिव्यांगजनों मे किसी प्रकार की असुविधा न हो।
इसके अलावा ब्रेल लिपि जानने वाले पांच दृष्टिबाधित मतदाता भी इस पद्यति के तहत मतदान किये।

मतदान के दिन भी खुली रही प्रतिष्ठानें व दुकानें

जिला निर्वाचन अधिकारी डा0 अनिल कुमार सिंह ने एक विज्ञप्ति जारी कर बताया था कि मतदान के दिन सभी दुकानें, प्रतिष्ठान व कारखाने बन्द रहेंगे l ताकि इसमे कार्य करने वाले मजदूर भी अपना मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे लेकिन जिले मे आदेश की अवहेलना की गयी और मतदान के दिन ज्यादेंतर दुकानें खुली रही।

चिलचिलाती धुप में भी मतदाताआंे मे रहा उत्साह

रविवार को मतदान के दिन मतदान केन्द्रों पर चिलचिलाती धुप मतदाताओ के उत्साह को नही रोक पाया। मतदाता इतनी भीषण धुप मे मतदताता कतार मे खड़े रहे और अपने मताधिकार का प्रयोग करते रहे थे।

कई बूथों पर इवीएम मशीन खराब होने से घंटों बाधि रहा मतदान

मतदान के दिन जिले के कई मतदान केन्द्रांे/बूथों पर ईवीएम मशीन खराब होने से कही एक घंटे तो कही दो घंटे तक मतदान थप रहा। इस दौरान मतदाताओं मे काफी आक्रोश था और प्रशासन के रवैये को कोषते नजर आये।

रोजेदारों ने भी लोकतंत्र के महापर्व मे बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया

चिलचिलाती धुप, रमजान का पवित्र महिना, भुखे प्यासे मुस्लिम मतदाताआंे ने भी लोकतंत्र के महापर्व मे तपति धुप को दरकिनार का सुबह से ही मतदान
केन्द्रों पर जमे रहे और अपने मताधिकार का प्रयोंग किये।

मतदान के बाद लेते रहे सेल्फी

रविवार को मतदान के बाद आदर्श बूथ केन्द्रों पर बनाये गये सेल्फी पोंवाइन्ट बूथ पर मतदान के बाद युवाओं द्वारा सेल्फी खिंचने के लिए भीड़ लगी रही। जिले के समस्त विधान सभा क्षेत्रो मे चयनित आदर्श बूथों पर
सेल्फी पोवाइन्ट बूथ बनाये गये थे।

कुछ बुथों पे ईबीएम की गड़बड़ी तो कहि दिखी पीठासीन की लापरवाही

पुरुषों से ज्यादा, दिखी महिलाओ में उत्साह, लंच के लिये तरसते रह गये चुनावकर्मी

लोकसभा चुनाओ का आज सातवाँ व आखरी चरण है जिसमे देवरिया लोकसभा 66 के तमकुही विधान सभाओं क्षेत्र के बुथों पर पुरुष से ज्यादा महिलाओं का उत्साह देखने को मिला। कहि इबीएम की गड़बड़ी तो कहि पीठासीन अधिकारी की गड़बड़ी के चलते देर से शुरू हुआ मतदान वही चुनाव कर्मी लंच के लिये तरसते रह गये लेकिन नसीब नही हुआ लंच पैकेट। शाम 5 बजे तक पीठासिन अधिकारीयों द्वरा जानकारी दिया गया इस प्रकार लगभग 52 प्रतिशत मतदान इस क्षेत्र में हुआ। कहि कोई अप्रिय घटना की सूचना नही रही। अधिकारी पल पल की रिपोर्ट लेते रहे। तड़पती धूप में भी महिलाओं का उत्साह देखने लायक रहा। बूथ संख्या 209 पर एग्रो कारपोरेशन के चेयरमैन राज्यमंत्री बाल्टी बाबा ने अपने मताधिकार का प्रयोग किये। इस प्रकार सकुशल संपन्न हुआ अंतिम चरण का मतदान

सुबह 7 बजे से लेकर शाम 6 बजे तक मतो का प्रतिशत इस प्रकार रहा

लोक सभा 65 कुशीनगर संसदीय सीट के लिए रविवार को जिस प्रकार मतदान पड़ा उसका प्रतिशत 9 बजे तक खड्डा मे 10 प्रतिशत, पडरौना मे 18, कुशीनगर मे 11, हाटा मे 9, रामकोला मे 10 प्रतिशत मतदान पड़ा इसके अलावा लोक सभा
देवरिया के तहत तमकुहीराज मे 13 व फाजिलनगर मे 9 प्रतिशत। सुबह 9 से 11 बजे के बीच मे खड्डा मे 22, पडरौना मे 20, कुशीनगर मे 24, रामकोला मे 22, हाटा मे 19 व लोक सभा देवरिया के तहत तमकुहीराज मे 23 तथा फाजिलनगर मे 22
प्रतिशत मतदान पड़ा था। 11 बजे से अपरान्ह 1 बजे तक खडडा मे 30, पडरौना मे 36, कुशीनगर मे 36, हाटा मे 34, रामकोला मे 40 व लोक सभा देवरिया मे आने वाले विधान सभा तमकुहीराज मे 35 व फाजिलनगर मे 35 प्रतिशत मतदान रहा। इसी प्रकार 1 से 3 बजे के बीच मे खड्डा मे 48, पडरौना मे 42, कुशीनगर मे 46, हाटा मे 46.25, रामकोला मे 45 व लोक सभा देवरिया के तहत आने वाले विधान सभा तमकुहीराज मे 45 तथा फाजिलनगर मे 45 प्रतिशत मतदान हुआ था। 3 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक खडडा में 54, पडरौना मे 55 कुशीनगर मे 54, हाटा मे 53, रामकोला मे 50 व देवरिया लोंक सभा मे तमकुहीराज मे 54 तथा फाजिलनगर मे 53 प्रतिशत मतदान रहा। शाम 5 बजे से 6 बजे तक खड्डा मे 57, पडरौना मे 57, कुशीनगर मे 59.5, हाटा मे 55.75 व रामकोला मे 57.50 तमकुहीराज मे 57 व फाजिलनगर मे 54.6 प्रतिशत मतदान रहा।

कई बूथों पर व्‍हील चेयर न मिलने से परेशान हुए लोग

कई बूथों पर बुजुर्ग और दिव्‍यांग ट्राइसाइकिल न मिलने से बुरी तरह परेशान हो गए। लोकसभा क्षेत्र के पडरौना विधानसभा में बने बूथ पर कई ऐसे वोट देने पहुंचे थे। जिन्हें चलने में तकलीफ थी। उन्‍हें व्‍हील चेयर नहीं मिली। बड़ी मुश्किलों से वोट डाला। बूथ के पास पीने का पानी तक नहीं मिला। जबकि मतदान कर्मियों तक को पीने का पानी नहीं मिल पा रहा था।

Source link