MS Dhoni को लेकर प्रमुख चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने कही खास बात

16

मुंबई । भारतीय टीम में महेंद्र सिंह धौनी (MS Dhoni) की महत्ता किसी से छिपी नहीं है. विश्व कप में भी वह लगातार टीम के लिए उपयोगिता साबित करते रहे हैं. टीम के प्रमुख कोच रवि शास्त्री ने भी उनकी उपयोगिता को स्वीकर किया है. उन्होंने कप्तान विराट कोहली और अन्य खिलाड़ी भी अक्सर धौनी के सपोर्ट के बारे में चर्चा करते रहते हैं. इस बात के कयास लगाए जा रहे हैं कि धौनी विश्व कप 2019 के बाद क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे. हालांकि, प्रमुख चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने कहा है कि इस पर अभी तक कोई बात नहीं हुई है।

यह पूछने पर कि क्या धौनी ने यह संकेत दिया है कि यह उनका आखिरी विश्व कप होगा, प्रसाद ने कहा, हमने इस बात पर कोई चर्चा नहीं की है. ऐसे बड़े टूनार्मेंट से पहले यह उचित नहीं होगा कि अपने ध्यान को भटकाया जाए. हमारी सारी ऊर्जा विश्व कप के लिए अच्छी तैयारी पर लगी होनी चाहिए.।

प्रसाद ने कहा, हमने निश्चित रूप से इस पर बात नहीं की है क्योंकि इतने बड़े टूर्नामेंट से पहले इस पर बात करने का कोई अर्थ नहीं है. इससे खिलाड़ियों का ध्यान भंग होगा.।

धौनी की फॉर्म के बारे में प्रसाद ने कहा, धौनी बल्ले से तो उपयोगी हैं ही, फील्डिंग और अन्य खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने में भी वह माहिर हैं. इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में वह अपने आप को और अधिक साबित कर सकेंगे. विश्व कप से पहले धौनी IPL के 14-16 मैच खेलेंगे. सभी कड़े मुकाबले होंगे. ये मैच धौनी को अपनी फॉर्म का विस्तार करने में सहायक ।

प्रसाद ने कहा है कि इंग्लैंड के खिलाफ इसी साल होने वाले विश्व कप में महेंद्र सिंह धौनी टीम का अहम हिस्सा हैं. बीते सालों में धौनी की बल्लेबाजी की काफी आलोचना हुई थी, लेकिन ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के दौरे पर उन्होंने अपनी बल्लेबाजी से सभी को खामोश कर दिया है।

वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो को दिए गए इंटरव्यू में प्रसाद ने धौनी को लेकर कहा, धौनी ने जिस तरह आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में प्रदर्शन किया है उससे एक बात साफ है. उन्होंने तय कर लिया है कि वह अपना स्वाभाविक खेल खेलेंगे. यह वो धौनी हैं जिन्हें हम जानते हैं।

उन्होंने कहा, हम काफी खुश होंगे अगर धौनी इसी तरह अपनी बेखौफ बल्लेबाजी करते रहें. कई बार समय कम होने के कारण वह कम रन बना पाते हैं, लेकिन अब वह लगातार खेल रहे हैं तो आप उनमें बदलाव देख सकते हैं।

37 साल के धौनी का यह चौथा विश्व कप होगा और वह विश्व कप के बाद सात जुलाई को 38 साल के हो जाएंगे. भारत ने धौनी के नेतृत्व में ही आखिरी बार 2011 में वनडे विश्वकप जीता था. वह इस समय टीम के नेतृत्व समूह का अभिन्न हिस्सा हैं।

Source link