राम मंदिर भूमि पूजन-शिलान्यास रामराज्य युग की शुरुआत है, दीपक जलाकर उत्सव मनाएं : सीएम योगी
राम मंदिर भूमि पूजन-शिलान्यास रामराज्य युग की शुरुआत है, दीपक जलाकर उत्सव मनाएं : सीएम योगी

अयोध्या में ऐतिहासिक राम मंदिर शिलान्यास और भूमिपूजन का समय नज़दीक होने पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कई अहम बातें कही हैं। इस पावन घड़ी की प्रतीक्षा करते हुए पीढ़ियाँ ख़त्म हो गईं। राम के नाम में आस्था रखने वालों ने 5 शताब्दी तक इस अवसर की प्रतीक्षा की। तमाम कठिनाइयों के बावजूद राम मंदिर निर्माण के लिए संघर्ष करने वालों ने हार नहीं मानी। उसका ही परिणाम है कि राम मंदिर बहुत जल्द आकार लेने वाला है। करोड़ों लोगों की आस्था का सबसे प्रबल प्रतीक उनके सामने होगा। मर्यादा पुरुषोत्तम का एक वनवास सदियों पहले ख़त्म हुआ था और दूसरा अब ख़त्म हुआ है। इसके बाद वह अपनी जन्मभूमि स्थित सिंहासन पर विराजमान होंगे।

सीएम योगी ने भूमिपूजन की घटना को नए युग का सूत्रपात बताते हुए कहा है कि ये मानवकल्याण और रामराज्य का युग है. इस वक्त कोरोना का ध्यान रखते हुए घरों में रहकर दीप जलाएं और खुशियां मनाएं ।

‘5 अगस्त, 2020 को भूमिपूजन/शिलान्यास न केवल मंदिर का है वरन्, एक नए युग का भी है. यह नया युग प्रभु श्रीराम के आदर्शों के अनुरूप नए भारत के निर्माण का है. यह युग मानव कल्याण का है. यह युग लोक कल्याण हेतु तपोमयी सेवा का है. यह युग रामराज्‍य का है।

भाव-विभोर करने वाले इस ऐतिहासिक अवसर पर प्रत्‍येक देशवासी का मन प्रफुल्लित होगा, हर्षित-मुदित होगा. किंतु स्मरण रहे, प्रभु श्रीराम का जीवन हमें संयम की शिक्षा देता है. इस उत्साह के बीच भी हमें संयम रखते हुए वर्तमान परिस्थितियों के दृष्टिगत शारीरिक दूरी बनाये रखना है क्योंकि यह भी हमारे लिए परीक्षा का क्षण है।

अत: मेरी अपील है कि विश्व के किसी भी भाग में मौजूद समस्त श्रद्धालुजन 4 एवं 5 अगस्त, 2020 को अपने-अपने निवास स्‍थान पर दीपक जलाएं, पूज्य संत एवं धर्माचार्यगण देवमंदिरों में अखंड रामायण का पाठ एवं दीप जलाएं. निर्माण का स्वप्न पालकर पवित्र तप करने वाले तथा ऐसे ऐतिहासिक क्षण का प्रत्‍यक्ष किये बिना गोलोक पधार चुके अपने पूर्वजों का स्‍मरण करें और उनके प्रति कृतज्ञता व्यक्त करें. पूर्ण श्रद्धाभाव से प्रभु श्रीराम का स्‍तवन करें।
प्रभु श्रीराम का आशीष हम सभी पर बना रहेगा।
श्रीराम जय राम जय जय राम!’