लोकसभा चुनाव 2019: अंतिम चरण में 8 राज्यों की 59 सीटों पर 918 उम्मीदवारों के भाग्य का होगा फैसला !

25

नई दिल्ली । लोकसभा चुनाव के सातवें एवं अंतिम चरण में रविवार को 7 राज्यों की 59 सीटों पर होने वाले मतदान के लिए सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं। कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था के बीच इस चरण के लिए मतदान सुबह सात बजे शुरू होगा और मतदाता शाम छह बजे तक अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे।

polling on 59 seats tomorrow के लिए इमेज परिणाम

शाम छह बजे मतदान केन्द्रों के दरवाजे बंद कर दिये जायेंगे लेकिन जो मतदाता इससे पहले केन्द्र में चला जायेगा और लाइन में खड़ा होगा उसे वोट डालने का अधिकार होगा। दूर दराज के क्षेत्रों में चुनाव कर्मी जरूरी चुनावी सामग्री के साथ मतदान केन्द्रों में पहुंचना शुरू हो गये हैं और सियासी दल भी रिजल्ट मोड में आ चुके हैं। जहां पर चुनाव हो चुके हैं वहां लोगों को अब 23 मई का बेसब्री से इंतजार है।

इस बीच, सातवें और अंतिम चरण के लोकसभा चुनाव की 59 सीटों पर रविवार को वोट डाले जाएंगे। उससे पहले शनिवार को देशभर में अलग ही हलचल देखने को मिली। पीएम मोदी केदारनाथ धाम में हैं तो वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी दिल्ली में बैठकें करते रहे। लखनऊ में भी हलचल रही क्योंकि ज्क्च् सुप्रीमो चंद्रबाबू नायडू चुनाव के संभावित नतीजों के बाद की रणनीति तैयार करने पहुंचे हुए थे। उन्होंने एसपी और बीएसपी दोनों दलों के सुप्रीमो से मुलाकात की।

lok sabha election 2019-(फोटो साभार- सोशल मीडिया)

पिछले 24 घंटों में प्रचार वाला शोर भले ही न हो पर नेताओं की मुलाकातें जारी हैं। दरअसल, सातवें चरण का चुनाव प्रचार शुक्रवार शाम में ही समाप्त हो गया था। ऐसे में सियासी खेमों में समीकरण साधे जा रहे हैं। यह सब तब हो रहा है जब एक दिन बाद अभी 59 अहम सीटों पर मतदान होना बाकी है, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सीट वाराणसी भी शामिल है।

8 राज्यों की 59 सीटों पर करीब 10.17 करोड़ मतदाता रविवार को 918 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे। निर्वाचन आयोग ने मतदान सुगम तरीके से संपन्न कराने के लिए 1.12 लाख मतदान केंद्र बनाए हैं। सातवें चरण में जिन राज्यों में मतदान होगा, उसमें पंजाब (13), उत्तर प्रदेश (13), पश्चिम बंगाल (9), बिहार (8), मध्य प्रदेश (8), हिमाचल प्रदेश (4), झारखंड (4), चंडीगढ़ (1) शामिल हैं।

बीजेपी ने 2014 में इस अंतिम चरण की 59 सीटों में से 30 पर विजय हासिल की थी। अंतिम चरण की महत्वपूर्ण सीटों की बात करें तो इसमें वाराणसी सबसे महत्वपूर्ण है क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां से दोबारा चुनाव मैदान में हैं। उनका मुकाबला कांग्रेस के अजय राय और एसपी उम्मीदवार शालिनी यादव से है।

इसके अलावा केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, श्रीमती हरसिमत कौर बादल, हरदीप पुरी , मनोज सिन्हा, शत्रुघ्न सिन्हा, अनुराग ठाकुर, बीबी जागीर कौर, पवन बंसल, किरण खेर, मीसा भारती, सनी देओल, शिबू शोरेन, आर के सिंह, भाकपा नेता अतुल कुमार अंजान, महेन्द्र नाथ पांडे और अनुप्रिया पटेल समेत कई प्रमुख नेता शामिल हैं।

Source link