बारिश में भीगने के तुरंत बाद जरूर अपनाएं यह 6 काम, नहीं तो  इन-इन बीमारियों से हो सकता है सामना

187
बारिश में भीगने के तुरंत बाद जरूर अपनाएं यह 6 काम, नहीं तो  इन-इन बीमारियों से हो सकता है सामना
बारिश में भीगने के तुरंत बाद जरूर अपनाएं यह 6 काम, नहीं तो  इन-इन बीमारियों से हो सकता है सामना

पूरे भारत में मानसून लगभग  दस्तक दे चुका है और जगह-जगह पर लगातार बारिश भी शुरू हो चुकी है। ऐसे में कई लोग अपनी जरूरत के लिए घर से बाहर भी निकल रहे हैं और उन्हें बारिश में भीगना भी पड़ रहा है। मानसून में होने वाली बरसात कई सारी बीमारियों की वजह भी बन जाती है, इसलिए अपनी सेहत का खास ख्याल रखने की जरूरत है। यहां पर आपको कुछ ऐसे ही सेहतमंद टिप्स दी जा रही हैं, जिन्हें आप बारिश में भीगने के तुरंत बाद जरूर अपनाएं।
ऐसा न करने की स्थिति में हो सकता है कि आप किसी ना किसी स्वास्थ्य समस्या से जरूर परेशान हो जाएं। खासकर कोरोना वायरस महामारी के इस दौर में बीमार होने के बाद आप अस्पताल बिल्कुल भी नहीं जाना चाहेंगे, इसलिए पहले से तैयारी करना बहुत जरूरी है। आइए अब जानते हैं कि कौन-सी 5 टिप्स हैं जो बारिश में भीगने के बाद सभी को फॉलो चाहिए।

बारिश में भीगने के तुरंत बाद जरूर अपनाएं यह 6 काम, नहीं तो  इन-इन बीमारियों से हो सकता है सामना

पहले यह जान लीजिए किन-किन बीमारियों से हो सकता है सामना
बारिश में भीगने के बाद आपको जो बीमारियां अपनी चपेट में लेंगी, उनके लक्षण आपको काफी हद तक कोरोना वायरस के लक्षण से मिलते-जुलते भी दिखाई दे सकते हैं। बारिश में भीगने के बाद अक्सर लोगों को पहले सर्दी, जुकाम और खांसी की समस्या होती है। जिन लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत नहीं होती, वह सर्दी खांसी और जुकाम की चपेट में आने के बाद तुरंत बुखार से भी पीडि़त हो जाते हैं।

इसके अलावा बारिश में भीगने के बाद सिरदर्द, स्किन एलर्जी और आंखों के संक्रमण का खतरा भी बढ़ जाता है। आइए अब जानते हैं कि बारिश में भीगने के बाद क्या करना है?

सिर को ढकें
सिर हमारे शरीर का पहला हिस्सा होता है जहां पर बारिश का पानी सबसे पहले पड़ता है। हमारे शरीर की पूरी कार्यप्रणाली सिर के जरिए ही संचालित होती है। सिर का हिस्सा काफी कोमल भी होता है। चलिए थोड़ी देर तक बारिश का पानी पडऩे के बाद हमें ठंडक महसूस होने लगती है। ऐसी स्थिति में सबसे पहले अपने सिर को ढक लें और कोशिश करें कि बारिश का पानी सिर पर जितना कम हो सके, उतना कम पड़़े।

कपड़ों को बदलने में न करें देरी
बारिश में भीगने के बाद जैसे ही घर पहुंचे तुरंत अपने कपड़ों को बदल लें। ऐसा करने से आपके शरीर का तापमान सामान्य अवस्था में आ जाएगा और आपको ठंड भी नहीं लगेगी। इसके साथ-साथ बारिश के मौसम में कई प्रकार के फंगल संक्रमण का खतरा भी रहता है। कपड़ों को तुरंत बदलने के कारण इस पर मौजूद फंगस, संक्रमण नहीं फैला पाएंगे।

लगाएं कोई एंटीबैक्टीरियल क्रीम
बारिश में भीगने के जब आप अपने कपड़ों को बदल लें तो उसके बाद किसी एंटीबैक्टीरियल क्रीम को पूरे शरीर में लगाएं। ऐसा करने से आपके शरीर पर मौजूद बैक्टीरिया मर जाएंगे और आप किसी भी प्रकार की स्किन एलर्जी की चपेट में आने से बचे रहेंगे। इतना ही नहीं, एंटीबैक्टीरियल क्रीम को लगाने से आप दाद, खाज और खुजली की समस्या से परेशान नहीं होंगे।

सिर को दें विशेष ट्रीटमेंट
बारिश में भीगने के बाद घर पहुंचने पर कोशिश करें कि सबसे पहले अपने सिर को किसी तोलिया से अच्छी तरह पोछ लें। सिर पर यदि ज्यादा देर तक बारिश का पानी मौजूद रहेगा तो इसके कारण आप सर्दी जुकाम और खांसी की चपेट में भी आ जाएंगे। सिर का हिस्सा गीला होने के बाद सबसे पहले इन्हीं स्वास्थ्य समस्याओं से लोगों को प्रभावित करता है।

गर्म चाय या काढ़े का सेवन करें
बारिश में भीगने के बाद आपको गर्म चाय या फिर काढ़े का सेवन जरूर करना चाहिए। यह न केवल आपके शरीर की एनर्जी को बूस्ट करते हैं बल्कि बारिश में भीगने का कारण शरीर के गिरे हुए तापमान को मेंटेन करने में भी अहम भूमिका निभाते हैं। इसके साथ साथ काढ़े का सेवन करना और भी फायदेमंद रहेगा। इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है और आप सर्दी, खांसी और फ्लू जैसी समस्याओं से बचे रह सकते हैं।

पैरों को अच्छी तरह धोएं
बारिश में भीगने के दौरान यदि आपने जूते पहन रखे थे तो यह काफी लाभदायक रहेगा, लेकिन जो लोग स्लीपर पहनकर बारिश में भीगते हैं उनके लिए कई प्रकार के रोगों का खतरा बढ़ जाता है। बारिश के समय में स्लीपर पहनने वाले लोगों के अंगूठे में या उसके आस-पास मिट्टी के छोटे-छोटे कण भी क_े हो जाते हैं। इन्हें ठीक तरह से साफ न किया जाए तो अंगूठे में पस भी बन जाता है जो बहुत दर्दनाक साबित होता है। इसलिए घर पहुंचने के तुरंत बाद अपने पैरों को अच्छी तरह धो लें।