उद्योगपति को महिलाओं ने किया ‘किडनैप’, मांगी 30 लाख की फिरौती !

24

नई दिल्ली ।  रात पुलिस को कंपनी के सीनियर मैनेजर ने कॉल कर बताया था कि उनकी कंपनी के डायरेक्टर को दिल्ली में बंधक बनाया गया है। जांच में पता चला कि कारोबारी ने गुरुवार रात एक फाइव स्टार होटल में चेक-इन किया था। सीसीटीवी फुटेज खंगाला गया तो पता चला कि एक महिला आई थी और कारोबारी को बाहर लेकर गई थी।  सीसीटीवी फुटेज और मोबाइल सर्विलांस का सहारा लेकर पुलिस ने कारोबारी की लोकेशन ढूंढ निकाली।

डीसीपी(नई दिल्ली) ऐश सिंघल ने लोकेशन के बारे में पता लगाने के लिए कई टीमें बनाईं। इसी बीच किडनैप करने वाले लगातार कंपनी के अधिकारियों को कॉल कर फिरौती को लेकर मोलतोल करते रहे। पुलिस सूत्रों ने बताया ति ये कॉल्स वॉट्सऐप के जरिए की गईं ताकि उनकी पहचान उजागर न हो। आखिरकार 6 घंटे बाद लक्ष्मीनगर के एक मकान के बाहर वह कार नजर आई जिसमें बैठाकर कारोबारी को लाया गया था।

कार मालिक से पूछताछ में पता चला कि वह किडनैपिंग प्लान में शामिल है। उसने बताया कि जल्द कुछ पैसे कमाने के लिए उसने ऐसा किया। इसके बाद पुलिस ने दबिश डालकर कारोबारी को सुरक्षित छुड़ा लिया और अस्पताल में ऐडमिट कराया।

पुलिस को दिए बयान में एमडी ने बताया कि वह बिजनस ट्रिप पर दिल्ली आए थे। शुक्रवार को एक महिला का कॉल आया, जिसने खुद को उनका जानने वाला बताया। उसने मिलने के लिए कहा और उनके रूम पर पहुंची। थोड़ी देर बातचीत के बाद उसने किसी से मिलवाने की बात कही और दोनों साथ में होटल से निकले। इसके बाद महिला उन्हें लक्ष्मीनगर ले गई और थोड़ा इंतजार करने को कहा।

थोड़ी देर बाद दो अन्य महिलाएं पहुंचीं और उनपर उनकी बेटी के रेप का आरोप लगाने लगीं। जब उन्होंने आरोप को झूठा बताया तो कहने लगीं कि अगर वह उन्हें 30 लाख रुपये दिलवा देंगे तो उन्हें छोड़ देंगी। शुरुआत में उन्होंने इनकार किया लेकिन उन्होंने जबरन एरिया मैनेजर को कॉल कर पैसों का इंतजार करने के लिए कहलवाया।

कुछ गड़बड़ होने की आशंका में एरिया मैनेजर ने पुलिस को कॉल कर पूरी कहानी बताई और जल्द केस सॉल्व हो गया। लुटियंस दिल्ली के एक लग्ज़री होटल से किडनैप किए गए मुंबई के एक उद्योगपति को पुलिस ने लक्ष्मीनगर के एक मकान से सुरक्षित मुक्त करा लिया।

करीब 6 घंटों की मशक्कत के बाद पुलिस 6 अपहरणकर्ताओं को अरेस्ट करने में कामयाब हुई, जिनमें 4 महिलाएं हैं। चाणक्यपुरी इलाके के होटल में एक महिला की मदद से मुंबई की मरीन इंजिनियरिंग कंपनी के 64 वर्षीय मैनेजिंग डायरेक्टर को किडनैप किया गया था और 30 लाख रुपये की फिरौती मांगी जा रही थी। कारोबारी को लक्ष्मीनगर के एक मकान में रखा गया था। फिरौती की रकम को लेकर जब मोलभाव चल रहा था तब पुलिस ने आरोपियों तक पहुंची और उन्हें धर दबोचा।

 

Source link