सेक्स लाइफ बर्बाद कर सकती हैं पुरुषों की ये बीमारी

100

अक्सर देखा जाता है कि लोग अपनी सेक्स लाइफ से संतुष्ट नहीं होते हैं। इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं। हम सभी सेक्स से जुड़ी किसी भी समस्या को सबसे बड़ा मानते हैं। सेक्स से जुड़ी समस्या पर तुरंत ध्यान नहीं दिया तो आगे चलकर बड़ी परेशानी खड़ी कर सकती है। आपको ये पता होना चाहिए कि कई स्वास्थ्य बीमारियां भी आपकी सेक्स लाइफ पर बुरा असर डालती हैं। ऐसी ही कुछ बीमारियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आपकी सेक्स लाइफ बर्बाद कर सकती हैं। आज भी हम सेक्स और सेक्स लाइफ से जुड़ीं समस्याओं के बारे में बात करने से हिचकते हैं। हालांकि, कई लोग ऐसे भी हैं जो सेक्स लाइफ की गंभीर समस्याओं को लेकर खुलकर बात करने लगे । पेरोनीज (Peyronie’s) भी एक ऐसी ही बीमारी है जिसके बारे में बहुत कम लोगों को पता है जबकि ये बीमारी आपकी सेक्स लाइफ को पूरी तरह से बर्बाद कर सकती है।

पेरोनीज बीमारी में पुरुषों के प्राइवेट पार्ट में कुछ टिश्यूज अलग तरीके से डेवलेप हो जाते हैं । हालांकि यह बीमारी कैंसर से पूरी तरह अलग है। इस बीमारी में इरेक्शन के दौरान पुरुषों का प्राइवेट पार्ट बेंड (मुड़ा हुआ) हो जाता है और कई बार दर्द का भी अनुभव होता ।

स्टीफन जोन्स (बदला हुआ नाम) ने एक ब्रिटिश अखबार से अपना अनुभव शेयर किया है । पेनोरीज बीमारी से पीड़ित स्टीफेन जोन्स को तब पहली बार अजीब महसूस हुआ जब उन्होंने अपने प्राइवेट पार्ट में स्कार टिश्यू (जख्मी ऊतकों से बना निशान) देखा। 49 वर्षीय स्टीफन बताते हैं, ‘मुझे ऐसा लगता था, जैसे मेरी स्किन कहीं फंसी हुई हो. मुझे कुछ दिनों बाद ही दर्द महसूस होने लगा और मेरे प्राइवेट पार्ट में एक कर्व सा बन गया।

वह बताते हैं, मैंने भी वही किया जो एक अधेड़ उम्र का इंसान करता, मैंने ऑनलाइन अपने लक्षणों की जांच शुरू कर दी. सर्च के बाद मुझे पता चला कि ये सारे लक्षण एक ऐसी बीमारी की तरफ इशारा करते हैं जो हर 10 पुरुषों में से एक को होती है- पेनोरीज.

पेनोरीज एक ऐसी बीमारी है जिसमें प्राइवेट पार्ट पर कुछ जख्मी ऊतकों से बने निशान या बेंडिंग की वजह से सेक्स करना असंभव सा हो जाता है । इरेक्शन के दौरान पेनिस का आकार टेढ़ा या अजीबोगरीब हो सकता है । किसी एक हिस्से में ग्रोथ की वजह से प्राइवेट पार्ट किसी एक दिशा में ज्यादा मुड़ जाता है, वहीं ज्यादा गंभीर मामलों में यह 90 डिग्री या उससे भी ज्यादा एंगल तक भी मुड़ सकता है।

यह बीमारी ज्यादातर 40 वर्ष या उससे भी ज्यादा उम्र के पुरुषों को प्रभावित करती है। हालांकि, युवाओं को भी यह बीमारी हो सकती है. इसकी कोई स्पष्ट वजह तो नहीं है लेकिन डॉक्टरों का कहना है कि चोट, खेल या एग्रेसिव सेक्स इस कंडीशन के लिए जिम्मेदार हो सकते। कुछ पुरुषों में यह आनुवांशिक तौर पर हो सकता है जबकि कई स्टडीज में इसे टेस्टोस्टेरोन के कम स्तर से भी जोड़कर देखा गया है।

हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि इस बीमारी के जीवन पर बुरे असर और मानसिक अवसाद को देखते हुए लोगों के बीच जागरुकता का स्तर काफी कम है । इस बीमारी का इलाज पेचीदा हो सकता है और इसमें सर्जरी की जरूरत भी पड़ सकती है ।

अधिकतर लोगों की तरह जोन्स को भी शक हुआ कि कहीं उनके प्राइवेट पार्ट में ग्रोथ कैंसर से संबंधित तो नहीं है । उन्होंने एक सेक्सोलॉजिस्ट से संपर्क किया। पेनोरीज बीमारी के लक्षणों की पुष्टि करने में उन्हें तीन महीने लग गए।

एक वक्त आया जब जोन्स की सारी उम्मीदें सर्जरी पर आकर टिक गईं लेकिन उन्होंने कुछ साइड इफेक्ट को देखते हुए सर्जरी का विकल्प नहीं चुना। डॉक्टरों ने उन्हें शियापेक्स के बारे में बताया। Xiapex ड्रग में पाया जाने वाला एक ऐसा एन्जाइम है जो अधिकतर प्लेक (स्कार टिश्यू या विकृत ऊतकों) को बनाने वाले कोलेजन को तोड़ सकता है. इससे बेंड कम हो जाता है ।