तीसरी क्लास के स्टूडेंट ने प्रिंसिपल मैडम को लिखा ‘Love Letter’, मैडम ने बच्चे को दी ये सजा

149
तीसरी क्लास के स्टूडेंट ने प्रिंसिपल मैडम को लिखा ‘Love Letter’, मैडम ने बच्चे को दी ये सजा
तीसरी क्लास के स्टूडेंट ने प्रिंसिपल मैडम को लिखा ‘Love Letter’, मैडम ने बच्चे को दी ये सजा

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर आंध्र प्रदेश के एक स्कूल की खूब आलोचना हो रही है। आरोप है कि स्कूल की प्रिंसिपल मैडम के आदेश पर दो बच्चों को स्कूल की एक बेंच से बांध दिया गया है। बच्चों की गलती यह है कि उन्होंने प्रिंसिपल मैडम को लव लेटर लिख दिया था। जबकि दूसरा बच्चा क्लास में शोर मचा रहा था। इसके बाद दोनों मासूम बच्चों को रस्सी से बांध दिया गया।

दोनों की तस्वीरें सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद स्कूल और उसके शिक्षकों की खूब आलोचना हो रही है। जब इस बाबत स्कूल प्रिंसिपल श्रीदेवी से सवाल किया गया तो उन्होंने आरोपों को खारिज किया। प्रिंसिपल ने कहा कि उन्होंने बच्चों को नहीं बांधा। इतना ही नहीं, श्रीदेवी ने उल्टा बच्चों के माता-पिता पर आरोप लगाया और कहा कि बच्चों को बांधने का काम उनके पैरेंट्स ने किया है।

तीसरी क्लास के स्टूडेंट ने प्रिंसिपल मैडम को लिखा ‘Love Letter’,  मैडम ने बच्चे को दी ये सजा
तीसरी क्लास के स्टूडेंट ने प्रिंसिपल मैडम को लिखा ‘Love Letter’, मैडम ने बच्चे को दी ये सजा

मामला अनंतपुर जिले के कादिरी नगर पालिका में मासानम्पेट अपर प्राइमरी स्कूल का है। लेटर पढ़ने के बाद प्रिंसिपल को विश्वास ही नहीं हुआ कि आखिर कोई स्टूडेंट ऐसा कैसे कर सकता है। जिसके बाद मैड़म ने दोनों मासूम बच्चों को रस्सी से बांधवा दिया।

तीसरी क्लास के स्टूडेंट ने प्रिंसिपल मैडम को लिखा ‘Love Letter’,  मैडम ने बच्चे को दी ये सजा
तीसरी क्लास के स्टूडेंट ने प्रिंसिपल मैडम को लिखा ‘Love Letter’, मैडम ने बच्चे को दी ये सजा

मामला सामाजिक कार्यकर्ताओं के नजर में आने के बाद प्रिंसिपल के खिलाफ क्रिमिनल केस दर्ज कराने की मांग होने लगी। जब इस बाबत स्कूल प्रिंसिपल श्रीदेवी से सवाल किया गया तो उन्होंने आरोपों को खारिज किया।

स्कूल की हेडमिस्ट्रेस ने कहा कि एक बच्चे ने लवलेटर लिखा था। जबकि दूसरे ने किसी बच्चे का समान ले लिया था। उन्होंने कहा, हमने उसे नहीं बांधा था बल्कि उसकी मां ने उसे बांध दिया था। प्रिंसिपल ये नहीं बता पाई कि आखिर उन्होंने स्कूल में ऐसा क्यों होने दिया।

आंध्र प्रदेश बाला हक्कुला संघ के अध्यक्ष अच्युत राव ने जिला कलेक्टर और राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) के पास शिकायत दर्ज करवाई है। उन्होंने स्कूल प्रिंसिपल के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। जबकि जिला कलेक्टर ने भी घटना की जांच शुरू कर दी है। चाइल्ड वेलफेयर कमेटी की चेयरपर्सन नलनी राजेश्वरी ने भी इस बाबत कलेक्टर से मुलाकात की।