वेष्टि पहने PM Modi ने चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग को बताया MAHABALIPURAM से पुराना नाता

104
वेष्टि पहने PM Modi ने चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग को बताया MAHABALIPURAM से पुराना नाता
वेष्टि पहने PM Modi ने चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग को बताया MAHABALIPURAM से पुराना नाता

महाबलीपुरम। विश्वभर में सभी राष्ट्रपति या प्रधानमंत्री इतने सौभाग्यशाली नहीं होते कि उनके लिए किसी दूसरे देश का प्रधानमंत्री एक पर्यटक गाइड की भूमिका निभाए।

मगर, भारत के दौरे पर आए चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग को भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरफ से यह सौभाग्य नसीब हुआ।

भारत के प्राचीन शहर मामल्लापुरम यानी महाबलीपुरम में आज दुनिया के दो ‘महाबलियों’ भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग की मुलाकात हुई।

मोदी ने सड़क पर ही चीन के राष्ट्रपति की अगवानी की और फिर अगले एक घंटे तक शी को महाबलीपुरम के प्राचीन मंदिरों, अनोखी झुकी हुई चट्टान जैसी भारत की अनमोल विरासत को दिखाया।

पीएम मोदी तमिलनाडु के पारंपरिक परिधान वेष्टि (धोती जैसा परिधान), आधे बाजू वाले सफेद शर्ट और कंधे पर अंगवस्त्रम के साथ दिखे तो सफेद शर्ट और पैंट में थे चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग।

दरअसल, मामल्लापुरम का चीन से 1700 साल पुराना कनेक्शन है। ऐसे में माना जा रहा है कि प्राचीन विरासत को दिखाते हुए पीएम ने चीनी राष्ट्रपति को भारत-चीन के पुराने कनेक्शन के बारे में भी बताया।

पीएम मोदी और शी चिनफिंग ने साथ में पंच रथ का भ्रमण किया। महाभारत के पात्रों के नाम पर पंच रथ बनवाया गया है। इस दौरान पीएम और चीनी राष्ट्रपति ने कैमरे के सामने पोज भी दिए।

कहा जाता है कि 7वीं शताब्दी में पल्लव राजाओं ने इसका निर्माण कराया था। इस पंच रथ को वास्तुकला के साथ संतुलन के लिहाज से अद्भुत माना जाता है।

पंच रथ देखने के बाद कुछ देर के विश्राम के लिए मोदी और शी बैठे। इस दौरान भी पीएम मोदी चीन के राष्ट्रपति से कुछ चर्चा करते नजर आए और शी गंभीरता से उन्हें सुनते दिखे।

वेष्टि पहने PM Modi  ने चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग को बताया MAHABALIPURAM से पुराना नाता
नारियल पानी पीते पीएम मोदी और प्रेजिडेंट शी

विश्राम के दौरान पीएम मोदी और चीनी राष्ट्रपति के लिए नारियल पानी दिया गया। पीएम मोदी ने खुद अपने हाथों से नारियल का पानी और टिशू शी को बढ़ाया।

इस दौरान दोनों नेताओं ने अपने साथ मौजूद एक चीनी स्टाफ से कुछ चर्चा की और नारियल पानी का लुत्फ उठाया।

विदेश मंत्री एस. जयशंकर, विदेश सचिव विजय गोखले और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से शी चिनफिंग ने औपचारिक मुलाकात की।

पीएम मोदी ने भारतीय प्रतिनिधिमंडल का परिचय कराया और शी चिनफिंग ने चीनी प्रतिनिधिमंडल का परिचय कराया। मंदिर प्रांगण में सांस्कृतिक कार्यक्रम भी पेश किया गया।