प्रिंटिंग प्रेस के कर्मचारी के मोबाइल पर आई एक कॉल ने मचा दिया लखनऊ तक हड़कंप

26

प्रिंटिंग प्रेस के कर्मचारी के मोबाइल पर आई एक कॉल से खुफिया और सुरक्षा एजेंसियों के होश उड़ गए। कॉल करने वाले ने कहा कि सामान की व्यवस्था हो गई है। मेरठ को जल्द बम से उड़ा दिया जाएगा। लखनऊ तक हड़कंप मचा तो एटीएस, एलआईयू और इंटेलीजेंस ब्यूरो की टीमें जांच में जुट गईं। जांच में पता चला कि नाबालिग लड़कों ने अपने मामा को डराने के लिए यह कॉल की थी।

टीपीनगर थाना क्षेत्र स्थित मोहकमपुर फेस-वन में हॉक्स प्रिंटिंग प्रेस है। यहां काम करने वाले मोहित पर शनिवार शाम को अज्ञात नंबर से तीन मिस कॉल आईं। उसने बैक कॉल की तो कॉल उठाने वाले युवक ने कहा कि जुबैर भाई सामान लेकर आ गए हैं। पूरी व्यवस्था हो गई है। मेरठ को जल्द बम से उड़ा दिया जाएगा। यह सुनते ही मोहित के होश उड़ गए। उसने प्रेस मालिक भागेंद्र सिंह बोहरा को सूचित किया।

बोहरा ने सौ नंबर पर लखनऊ कंट्रोल रूम को सूचना दी तो हड़कंप मच गया। टीपीनगर थाने की पुलिस ने प्रिंटिंग प्रेस पहुंचकर जानकारी ली। पुलिस ने मोबाइल लोकेशन के आधार पर इंचौली थाना क्षेत्र के नयागांव निवासी 12वर्षीय आदित्य पुत्र गुलशन कुमार को उठा लिया। आदित्य ने पुलिस को बताया कि फुफेरे भाई बिजेंद्र ने कॉल की थी।

पुलिस आदित्य और बिजेंद्र को उठाकर टीपीनगर थाने ले आई। रविवार को यूपी एटीएस, एलआईयू और इंटेलीजेंस ब्यूरो की टीमों ने दोनों लड़कों से अलग-अलग कई घंटे तक पूछताछ की। बिजेंद्र ने बताया कि उनका मकसद अपने मामा मोहित को डराने का था। इसलिए वह कॉल कर इस तरह की बातें कर रहा था। पूछताछ के बाद दोनों को चेतावनी देते हुए परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया। इसके बाद सुरक्षा एजेंसियों ने राहत की सांस ली।