हमने तमाम सहूलियतें दीं, अब आप भी दें बेहतर परिणाम: योगी

55

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मानव जीवन सेवा के लिए है। इसे जनता की सेवा कर सफल बनाया जा सकता है। इस कुर्सी पर हमेशा के लिए न तो मैं रहने वाला हूं और न ही आप रहेंगे। इसलिए जरूरी है कि जो वक्त मिला है उसमें जनता के हित के लिए पूरी ईमानदारी और कर्तव्यनिष्ठा से काम किया जाये। शनिवार को उत्तर प्रदेश प्रांतीय सिविल सेवा (प्रोन्नत अधिकारी) संघ का सामान्य अधिवेशन- 2019 के शुभारम्भ के अवसर पर सीएम योगी ने कहा कि अगर मैं अच्छा काम करूंगा तो यह यादगार हो जाएगा। यही बात अधिकारियों और कर्मचारियों के कार्य पर भी लागू होती है।

अगर आप अच्छा काम करेंगे तो लंबे वक्त तक याद रखे जाएंगे। उन्होंने कहा कि आम आदमी के साथ आप लोग जुड़े हैं। इसे परोपकार मानकर जब आप घंटों काम करेंगे, तब जाकर आपको खुशी मिलेगी। कार्यक्रम में प्रदेश के मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडेय व अपर मुख्य सचिव नियुक्ति मुकुल सिंघल सहित कई अफसर मौजूद रहे।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सरकार ने आपको फ्री होकर खुद को साबित करने का मौका दिया है। अगर अधिकारी चाहें तो समाज में एक नई छवि बना सकते हैं। सभी लाभार्थियों को सरकार की योजनाओं का पूरा-पूरा लाभ मिले, यह जिम्मेदारी सभी अफसरों और कर्मचारियों की है। उन्होंने कहा कि अफसरों-कर्मचारियों के बीच अच्छे काम करने को लेकर स्वस्थ प्रतिस्पर्धा होनी चाहिए। अफसर-कर्मचारी प्रजेंटेशन के माध्यम से बेहतर कार्यों को प्रस्तुत करें। अधिकारियों व कर्मचारियों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अगर इंसान होकर भी आप इंसानियत के लिए काम नहीं करेंगे तो कौन करेगा? यह नहीं होना चाहिए। आप सभी की ड्यूटी सुबह 9.30 बजे की है, लेकिन कुछ लोग 11 बजे तक भी ऑफिस नहीं पहुंचते हैं।

ऊपर से दबाव न हो तो कुछ लोग तो 12 बजे तक दफ्तर आते हैं और कुछ लोग कैम्प कार्यलय बनाकर गप्पे मारते हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने जनता की समस्याओं को सुनने के लिए सीएम हेल्पलाइन और आइजीआएस बनाया, लेकिन अक्सर उसे बिना निस्तारित किये, निस्तारित की रिपोर्ट दी जाती थी। हमारी सरकार बनने के बाद इसमें सुधार करवाया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर जनता हमारे काम से खुश नहीं तो हमको यह मानना पड़ेगा कि हम अच्छा काम कर रहे हैं। सीएम योगी ने कहा कि ढाई साल के कार्यकाल में हमने यह पाया है कि जनता की 90 फीसदी समस्याएं राजस्व और पुलिस विभाग से सम्बंधित हैं।

राजस्व विभाग से सीधे जुड़ाव होने के चलते नायब तहसीलदार और प्रोन्नत डिप्टी कलेक्टर समस्याओं के समाधान का रास्ता बेहतर ढंग से जानते हैं। उन्होंने इस सेवा संवर्ग के अफसरों से अपील की है कि सरकार उनको हर तरह की सहूलियत देने कार्य कर रही है तो इस समर के अफसर भी जनता की समस्याओं के निराकरण में पूरी प्रतिबद्धता से कार्य करें। उन्होंने कहा कि मुझे बहुत अफसोस होता है कि कई बार बाबू लोग नगर निकाय के पैसों को अपने घर ले जाते हैं, क्योंकि कई बार इससे काफी समस्या आती है।

Please follow and like us: