ज्यादा फायदा 45 लाख तक का घर खरीदने पर, मिलेगी 4.50 लाख तक की छूट

24

सरकार की ओर से 45 लाख तक के निर्माणाधीन फ्लैट पर मात्र एक प्रतिशत जीएसटी लगाने से घर खरीदारों के बीच इस श्रेणी के फ्लैट की मांग सबसे अधिक हो गई है क्योंकि सरकार की तरफ से मिलने वाली छूट बढ़ गई है।

इस श्रेणी के घर पर जीएसटी छूट के साथ आयकर छूट ने मांग बढ़ाने में अहम भूमिका अदा की है। आम लोगों के पहुंच में होने से भी 45 लाख तक के फ्लैट की बिक्री सबसे तेजी से बढ़ी है। लियास फोरास की रिपोर्ट के अनुसार, छोटे शहरों के अलावा महानगरों में सस्ते घरों की मांग में 20 से 30 फीसदी की तेजी आई है। जीएसटी परिषद ने महानगरों में 60 वर्गमीटर और छोटे शहरों में 90 वर्गमीटर कारपेट एरिया और 45 लाख रुपये तक मूल्य वाले फ्लैट पर जीएसटी एक फीसदी कर दिया था।

45 लाख का घर लेने पर ज्यादा फायदा
1. सुस्ती दूर करने को सस्ते घर बना रहे सस्ते घरों के लिए जीएसटी में राहत, होम लोन पर ब्याज सब्सिडी और होम लोन ब्याज चुकाने पर आयकर छूटी की सीमा 3.5 लाख रुपये की गई है। ये सभी फायदे पहली दफा घर खरीदारों को बड़ी बचत करा रहे हैं।

शहर           45 लाख तक के फ्लैट        कुल आपूर्ति
एनसीआर         6,970                         21,600
एमएमआर      17,700                         49,890
बेंगलुरु              2,520                         20,080
पुणे                  9,350                         28,220
हैदराबाद              880                           9,000
चेन्नई              2,070                           7,060
कोलकाता            350                           3,640