विपक्ष पर श्रीकांत शर्मा का निशाना, बोले-यूपी का विकास उनको पच नहीं रहा

21

उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता व ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने शुक्रवार को विपक्ष पर निशाना साधा और कहा कि विपक्षी दलों को उत्तर प्रदेश का विकास पच नहीं रहा है। उन्होंने जारी एक बयान में कहा, “मुद्दा विहीन विपक्ष आपसी प्रतिस्पर्धा में आगे निकलने की होड़ और मीडिया की सुर्खियों में बने रहने के लिए अनर्गल प्रलाप कर रहा है। विपक्षियों को उप्र का विकास पच नहीं रहा है।”

शर्मा ने कहा, “इन्होंने प्रदेश में केवल भ्रष्टाचार और भाई-भतीजावाद ही किया है। आज प्रदेश में कानून का राज है, बड़े पैमाने पर निवेश से रोजगार आ रहा है तो प्रदेश का विकास इन्हें कष्टदायी लग रहा है। क्योंकि इनका व्यक्तिगत विकास रुक रहा है।”

श्रीकांत ने कहा, “मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई वाली सरकार जनभावनाओं के अनुरूप विकास कार्यों को गति देने, निवेश लाने, युवाओं को बेहतर शिक्षा-रोजगार, किसानों की आय दोगुनी करने और सभी को सुरक्षा देने के लिए प्रतिबद्ध है। प्रदेश में कानून का राज है, इसीलिए निवेशक आकर्षित हो रहे हैं। इन्वेस्टर समिट में हुए 4.68 लाख करोड़ रुपये के एमओयू को जमीन पर उतारने का काम तेजी से जारी है।”

मंत्री ने कहा, “सपा और बसपा के 10 वर्षों के कार्यकाल में इतना निवेश भी नहीं आया था, जितना हमने दो साल में जमीन पर उतार दिया। इसका एक ही कारण है कि तब अपराधी नेताओं और मंत्रियों की गाड़ियों में उनके साथ बैठकर घूमते थे। आज अपराधियों की जगह जेल है।”

उल्लेखनीय है कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में 9,549 अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें से 6,214 दुर्दांत अपराधी हैं। 1,384 अपराधी पुलिस कार्रवाई में घायल हुए हैं तथा 90 दुर्दांत इनामी तथा समाज की सुरक्षा को खतरा बने अपराधी पुलिस मुठभेड़ में मारे गए हैं। 16,165 अभियुक्तों ने अपनी जमानत निरस्त कराकर समर्पण कर दिया है।

उन्होंने कहा, “यह किसी से छिपा नहीं है कि सोनभद्र-मिजार्पुर में कांग्रेसियों और सापाइयों ने मिलकर आदिवासी किसानों की जमीन लूटकर खून-खराबा करवाया। रामपुर में सपा के लोकसभा सांसद ही जमीन कब्जाने में लगे रहे। सरकार ने कार्रवाई की तो पूरी पार्टी भूमाफिया को बचाने में लग गई। विपक्षियों को यह समझना होगा कि सरकार सख्त है और आरोपी कितना भी बड़ा क्यों न हो, कानून उसको उसकी सही जगह पहुंचाने का काम जरूर करेगा।”