इटावा मे कक्षा 8 के छात्र ने टीचर और प्रबंधक के टॉर्चर से तंग सल्फास खा दी जान

48

उत्तर प्रदेश मे इटावा जिले के जसवंतनगर इलाके के एक पब्लिक स्कूल के कक्षा आठ के छात्र ने शिक्षक और प्रबंधक के टॉर्चर से तंग आकर सल्फास खा कर जान दे दी । छात्र ने अपनी मौत से पहले छोडे सोसाइट नोट मे साफ साफ लिखा है कि स्कूल मे उसकी पिटाई की जाती है जिस कारण वो बहुत ही परेशान है और आत्महत्या कर रहा है ।

जसवंतनगर थाने के प्रभारी निरीक्षक अनिल कुमार सिंह का कहना है कि छात्र के आत्महत्या करने के मामले मे परिजनो की ओर से सोसाइट नोट मिला है जिसको लेकर पूरे मामले की गहनता से पडताल की जा रही है । उन्होने बताया कि प्राइवेट स्कूल के मैथ के टीचर संदीप कुमार और प्रंबधक सुरेंद्र धनगर को लेकर सोसाइट नोट मे जिक्र किया गया है कि छात्र को मैथ नही आती जिसको लेकर दोनो की ओर से छात्र की पिटाई की जाती है जिससे तंग आकर उसने मौत को गले लगाया हुआ है ।

पुलिस सूत्रो के अनुसार मंयक उर्फ हनी (11) पुत्र मुकेश बाबू शाक्य निवासी निलोई थाना जसवंतनगर इटावा । ब्राइट एंड पब्लिक स्कूल जसवंतनगर में कक्षा आठ का छात्र था जिसने टीचर व मैनेजर के टॉर्चर के तंग आकर सल्फास खाकर दी जान दे दी । इससे पहले नाजुक हालत मे छात्र को सैफई मेडिकल यूनीवसिर्टी मे दाखिल कराया गया जहॉ पर आज सुबह उसकी मौत हो गई  ।

बताते चलें मुकेश कुमार शाक्य मैनपुरी जनपद के एक प्राइवेट स्कूल में शिक्षक के पद पर तैनात हैं । उनके दो बेटे हैं जिसमें मयंक बड़ा बेटा था और गांव में ही अपने दादा-दादी के पास रहता था ।

हर रोज की भांति गुरूवार को छात्र स्कूल से वापस आया तो अचानक से उसकी तबीयत खराब हो गई । परिवारी जनों ने उसी जसवंतनगर में प्राइवेट अस्पताल में दिखाया । जहॉ पर हालत गंभीर होने पर सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी में भेजा । जहां डॉक्टरों ने उसका इलाज किया गया लेकिन शुक्रवार की सुबह 9 बजे उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई।

 

Please follow and like us: