सनसनीखेज: गोलियों से भूना एटा में सहायक अभियोजन महिला अधिकारी को

22

एटा में सरकारी आवास में रह रही अपर अभियोजन महिला अधिकारी को गोलियों से भून डाला। घटना को अंजाम रात्रि को दिया गया। जानकारी मिलने पर पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। उनको पांच गोली मारी गई है। इसमें तीन गोली मुंह में मारी है। अभी तक मृतका के परिजन नहीं पहुंच सके है।

जनपद के बरहन थाना क्षेत्र के गांव खुशालगढ निवासी नूतन यादव (35) पुत्री जगदीश प्रसाद यादव पिछले एक वर्ष से एपीओ के पद पर तैनात थी। वह अभी जलेसर न्यायालय में काम कर रही थी। पुलिस लाइन में सरकारी आवास में भाई के साथ रहती थी। सोमवार को भाई घर चला गया। वह अपने घर में अकेली थी। मंगलवार की सुबह करीब दस बजे काम करने वाली महिला ने जब गेट खोला तो कमरे के अंदर खून से लथपथ शव पड़ा था। शव देख वह चीख गई। महिला के चिल्लाने की आवाज सुन आसपास के लोग निकल आए। मामले की जानकारी कोतवाली नगर पुलिस को दी गई। एपीओ की हत्या होने की सूचना मिलते ही एसएसपी स्वप्निल ममगाई, एएसपी संजय कुमार, एएसपी क्राइक राहुल कुमार सहित सभी पुलिस के अधिकारी के अलावा न्यायालय के अधिकारी भी पहुंच गए। पुलिस ने पूरे घर को अपने कब्जे में ले लिया। किसी को भी अंदर नहीं जाने दिया। तलाशी के दौरान नूतन के कमरे से एक मोबाइल फोन बरामद हुआ। नाम पता लेने के बाद परिजनों को सूचना दे दी गई है। अभी तक हत्या का कारण स्पष्ट नहीं हो सका। मौके से 32 बोर के पांच कारतूस बरामद हुए है।

जानकारी मिलने पर मौके का निरीक्षण किया है। एपीओ को पांच गोलियां मारी गई है। फिलहाल घटना में किसी करीबी के शामिल होने की संभावना है। शीघ्र ही आरोपियों को पकड़ा जाएगा।

स्वप्निल ममगाई, एसएसपी एटा