पाकिस्तान में हाहाकार जम्मू कश्मीर में धारा 370 के फैसले से , डूबा शेयर बाजार

55

Article 370: सरकार ने सोमवार को राज्यसभा में एक विधेयक पेश किया जिसमें जम्मू कश्मीर राज्य का विभाजन दो केंद्र शासित प्रदेशों के रूप में करने का प्रस्ताव किया गया है। गृह मंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में एक संकल्प पेश किया जिसमें कहा गया है कि संविधान के अनुच्छेद 370 के सभी खंड जम्मू कश्मीर में लागू नहीं होंगे। सरकार के इस फैसले से पाकिस्तान की परेशानियां बढ़ गई है।

पाकिस्तान शेयर बाजार में गिरावट
अमित शाह के भाषण के बीच पाकिस्तान के शेयर बाजार में साल की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की। सोमवार को पाकिस्तानी शेयर बाजार का प्रमुख बेंचमार्क इंडेक्स केएसई-100 करीब 600 अंक लुढ़क कर 31 हजार 100 के स्तमर पर आ गया। यह पिछले कारोबारी दिन के मुकाबले करीब 1.75 फीसदी से अधिक की गिरावट है।

पुलवामा आतंकी हमले के बाद में आई थी गिरावट
इससे पहले जब भारत ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद एयरस्ट्राइक किया था तब भी पाकिस्तागन के बाजार में बेचैनी बढ़ गई थी। तब पाकिस्तान के बाजार ने कुल तीन कारोबारी दिनों में 2000 अंकों से ज्यामदा की बढ़त गंवा दी थी।

क्यूं आई गिरावट
भारत के कश्मीवर को लेकर अहम फैसले से पाकिस्तान का शेयर बाजार धड़ाम हो गया है। अमित शाह ने आज राज्यसभा में जम्मू एवं कश्मीर राज्य पुनर्गठन विधेयक 2019 पेश किया। गृह मंत्री अमित शाह ने लद्दाख के लिये केंद्र शासित प्रदेश के गठन की घोषणा की जहां चंडीगढ़ की तरह से विधानसभा नहीं होगी। शाह ने राज्यसभा में घोषणा की कि कश्मीर और जम्मू डिवीजन विधान के साथ एक अलग केंद्र शासित प्रदेश होगा जहां दिल्ली और पुडुचेरी की तरह विधानसभा होगी।

Please follow and like us: