आकांक्षा हैं आलिया भट्ट की पक्की सहेली

28

सोल सिस्टर्स… अपने रिश्तों को इन्हीं अल्फाजों में परिभाषित करती हैं अभिनेत्री आलिया भट्ट और उनकी दोस्त आकांक्षा रंजन कपूर। आकांक्षा, आलिया को अली कह कर पुकारती हैं तो आलिया आकांक्षा को कांची कहती हैं। ‘फ्रेंडशिप डे’ के मौके पर इन बचपन की सहेलियों से बात करना बेहद मजेदार अनुभव रहा। इन दोनों ने बताईं कुछ ऐसी बातें, जो उनके रिश्ते को  मजबूत बनाती हैं।

आपको एक-दूसरे का परिचय देना हो, तो कैसे देंगी? 
आलिया: कांची (आकांक्षा) बहुत भरोसेमंद है। कोई भी उसके सामने मेरी बुराई नहीं कर सकता। अपनी-अपनी व्यस्तताओं के चलते बहुत ज्यादा समय तो साथ नहीं बिता पाते, पर हमारी आपसी समझ बहुत गहरी है। उसे हुकुम चलाना बहुत पसंद है और मेरा मेकअप करना भी।
आकांक्षा: बचपन से लेकर अब तक अली में भावनात्मक स्तर पर बहुत बदलाव आया है। जब से मेरी उससे दोस्ती हुई, मेरी जिंदगी आसान हो गई। मुझे अपनी जिंदगी की समस्याओं को लेकर कभी थेरेपिस्ट के पास नहीं जाना पड़ा। मुझे कभी भी कोई भी समस्या होती है, मैं सीधे आलिया के पास जाती हूं। लोगों के लिए होगी वह ‘बिजी’… मेरे लिए वह हमेशा ‘वेल्ली’ होती है। मेरे लिए वह हमेशा उपलब्ध होती है।

आपस की कोई ऐसी लड़ाई, जिसे आप कभी नहीं भुला पाएंगी? 
आकांक्षा: जब मैं इससे नाराज होती हूं, तो यह मुझे लगातार कॉल करती ही रहती है और मैं इसका फोन काटती रहती हूं। इसके बाद वह मुझे ‘तुम पागल हो क्या?’ जैसे वॉइस मैसेज भेजने लगती है। हमारी कुछ लड़ाइयों में आलिया इतनी तेज चिल्लाई कि मेरे कान के परदे फटने वाले थे। पिछले पच्चीस सालों में हमारी सिर्फ एक लड़ाई ऐसी रही, जिसके बाद छह-सात महीने तक हमारी बातचीत बंद रही।
आलिया: जब भी हमारी अनबन होती है, इसे सपना आता है कि मैं मर गई हूं या मेरे साथ कुछ बुरा हुआ है और मैं रो रही हूं। जैसे ही उसे इस किस्म का कोई सपना आता है, वह तुरंत मुझसे मिलने चली आती है।

आपको एक-दूसरे की कौन-सी बात नापसंद है? 
आलिया: रोमांटिक रिश्तों को लेकर कांची का जो नजरिया है, वो मुझे बिल्कुल पसंद नहीं है। वह बहुत जल्दी निर्णयों पर पहुंच जाती है।
आकांक्षा: वैसे तो अली बहुत सकारात्मक लड़की है, पर साल-दर-साल उसकी जिंदगी में मौज-मस्ती का महत्व कम होता जा रहा है। वह कुछ ज्यादा ही गंभीर हो गई है।

हमने ऐसा सुना है कि आकांक्षा बहुत जल्द बॉलीवुड में कदम रखने जा रही हैं और आलिया इसमें उनकी मदद कर रही हैं। क्या यह सच है? 
आलिया: जब हम छोटे थे, तो एक साथ नाटकों, डांस और गाने में हिस्सा लेते थे। अब जब वह एक्टिंग करियर में कदम रखने जा रही है, तो मैं बहुत उत्साहित हूं। मैंने भी ये खबरें सुनी हैं कि मैं कांची की उसके करियर में मदद कर रही हूं, पर सच यह है कि कांची ने अब तक अपने करियर से जुड़ा सारा संघर्ष खुद ही किया है। उसने ऑडिशन दिए, लोगों से मिली और कई बार तो मुझे इनकी जानकारी भी नहीं होती थी। आखिरकार उसे मेहनत का फल मिला और उसे एक रोल मिल गया। मैं उसे सलाह देने के लिए हमेशा उपलब्ध हूं, पर उसके संघर्ष और सफलताओं को नकार नहीं सकती। उसके करियर को लेकर मैं उससे भी ज्यादा नर्वस हूं।
आकांक्षा: आलिया के रूप में मेरे पास एक सोने का हंस है। मैं जानती हूं कि आलिया मेरा साथ कभी नहीं छोड़ेगी।

किसी फिल्म में साथ काम करने के बारे में क्या ख्याल है? 
आलिया: हमने एक बार एक ब्रांड के लिए साथ में शूटिंग की थी। मैं चाहती हूं कि मैं उसे अपने हाथों से ‘बेस्ट डेब्यू एक्टर’ का अवॉर्ड दूं और हम साथ में ‘कॉफी विद करण’ शो में जाएं।
आकांक्षा: ‘कॉफी विद करण’ शो वाला सपना जल्द पूरा होना चाहिए।