एक बार फिर फूटा डेविड धवन को लेकर गोविंदा का गुस्सा

75

90s के सुपरस्टार गोविंदा आज भले ही बॉलीवुड से दूर हैं लेकिन आए दिन वह किसी न किसी वजह से खबरों में बनें रहते हैं। हाल ही में गोविंदा टीवी शो आप की अदालत में शामिल हुए। जहां गोविंदा ने अपनी पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ के बारे में खुलकर बात की । इतना नहीं इस दौरान गोविंदा ने अपने सबसे करीबी दोस्त और फिल्म मेकर  डेविड धवन को लेकर कुछ ऐसा कहा जा है जिसके बारे में जानकर आपको थोड़ी हैरानी जरूर होगी।

आपको बता दें कि शो के दौरान जब गोविंदा से जब उनके दोस्त डेविड धवन को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि ‘मैंने डेविड के साथ 17 फिल्में की हैं, मैं क्यों उनसे संबंध नहीं निभाउंगा। मुझे नहीं लगता कि उनका बेटा भी उनके साथ इतनी फिल्में नहीं करेगा क्योंकि वो भी तो आखिर है डेविड का ही बेटा। वो पढ़ा-लिखा है। वो कभी नहीं समझ सकता कि एक निर्देशक के साथ 17 फिल्में करना क्या होता है। संजय दत्त ने मुझे बोला था कि इस पंजाबी (डेविड धवन) को काम दो। मुझे भी डेविड का काम अच्छा लगता था। मैंने उनको वो सम्मान दिया जो शायद कभी अपने रिश्तेदारों को भी नहीं दिया। मैंने तो अपने निर्देशक भाई के साथ भी 17 फिल्में नहीं की हैं।’

आपको बता दें कि गोविंदा ने डेविड धवन के साथ 17 फिल्मों में काम किया है। ‘पार्टनर’, ‘कुली नं 1’, ‘हीरो नं 1’, ‘शोला और शबनम’, ‘राजाबाबू’ जैसी तमाम ब्लॉकबस्टर में दोनों साथ रहे। एक जमाने में दोनों उन लोगों के लिए आदर्श हुआ करते थे जो मसाला फिल्में बनाने के लिए काफी मशहुर थे। लेकिन वक्त के साथ दोनों अलग हो गए और इसका कारण कोई नहीं जानता है।

खबरों की मानें तो इन दोनों की बीच खटास फिल्म‘चश्मेबद्दूर’ है।  मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, 2014 की शुरुआत में गोविंदा और डेविड धवन के बीच दिक्कत होने की बात आम हो गई थी।  तब गोविंदा ने एक स्टेटमेंट जारी किया, इसमें उन्होंने कहा कि ‘चश्मेबद्दूर’ का आइडिया डेविड धवन को उन्होंने दिया था। लेकिन अचानक उन्हें पता लगा कि उन्होंने ऋषि कपूर को लेकर फिल्म की शूटिंग शुरू कर दी है। इसके बाद गोविंदा ने खुले तौर पर कहा कि वो डेविड धवन के साथ काम नहीं करना चाहते। क्योंकि डेविड बुरे समय में उनके साथ खड़े नहीं रहे। गोविंदा ने कहा कि डेविड को ये लगने लगा कि वो उनकी फिल्म में काम करने लायक नहीं रहे। ऐसे लोगों के साथ काम नहीं करना चाहिए।

 

Please follow and like us: