शेयर बाजार में थमी गिरावट , 52 अंक चढ़ा सेंसेक्स, 11300 के नीचे रहा निफ्टी

15

घरेलू शेयर बाजार में लगातार छह सत्रों तक जारी गिरावट आखिरकार शुक्रवार को थमने के बाद सेंसेक्स 51.81 अंकों की बढ़त के साथ 37,882.79 पर बंद हुआ और निफ्टी भी 32.15 अंकों की तेजी के साथ 11,284.30 पर रहा।

हालांकि विदेशी बाजार से मिले कमजोर संकेतों और घरेलू कंपनियों के खराब वित्तीय नतीजों से कारोबारी सप्ताह के आखिरी सत्र में भारी उतार-चढ़ाव का क्रम जारी रहा। सेंसेक्स में यस बैंक का शेयर सबसे ज्यादा 9.64 फीसदी तेजी के साथ बंद हुआ। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र की क्लोजिंग से तकरीबन सपाट 37,831.36 पर खुला और 51.81 अंकों यानी 0.14 फीसदी की बढ़त के साथ 37,882.79 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार के दौरान उतार-चढ़ाव का दौर जारी रहा। कारोबार के दौरान सेंसेक्स 37,978.07 तक उछला, जबकि इसका निचला स्तर 37,690.47 रहा। सेंसेक्स पिछले सत्र में 37,830.98 पर बंद हुआ था।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी पिछले सत्र के मुकाबले कमजोरी के साथ 11,247.75 पर खुला और कारोबार के आखिर में पिछले सत्र से 32.15 अंकों यानी 0.29 फीसदी की तेजी के साथ 11,284.30 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार के दौरान 11,307.60 तक उछला जबकि इसका निचला स्तर 11,210.05 रहा। पिछले सत्र में निफ्टी 11,252.15 पर बंद हुआ था।

सेंसेक्स के 30 शेयरों में से 17 शेयरों में तेजी रही जबकि 13 शेयर गिरावट के साथ बंद हुए। सेंसेक्स के सबसे ज्यादा तेजी वाले पांच शेयरों में यस बैंक (9.64 फीसदी), बजाज फाइनेंस (7.20 फीसदी), हीरोमोटोकॉर्प (3.21 फीसदी), एमएंडएम (3.08 फीसदी) और बजाज ऑटो (2.92 फीसदी) शामिल रहे। सेंसेक्स के सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच शेयरों में वीईडीएल (4.26 फीसदी), रिलायंस (1.48 फीसदी), भारती एयरटेल (1.46 फीसदी), ओएनजीसी (1.39 फीसदी) और एचडीएफसी (1.24 फीसदी) शामिल रहे। बीएसई मिड-कैप सूचकांक 73.30 अंकों यानी 0.53 फीसदी की तेजी के साथ 13,856.19 पर बंद हुआ और स्मॉल-कैप सूचकांक 28.99 अंकों यानी 0.22 फीसदी की तेजी के साथ 13,060.34 पर रहा। बीएसई के 19 सेक्टरों में से 12 में तेजी रही जबकि सात सेक्टरों के सूचकांकों में गिरावट दर्ज की गई। सबसे ज्यादा तेजी वाले पांच सेक्टरों में ऑटो (1.98 फीसदी), कंज्यूमर डिस्के्रशनरी गुड्स एंड सर्विसेज (1.05 फीसदी), बैंक इंडेक्स (1.03 फीसदी), कैपिटल गुड्स (0.95 फीसदी) और हेल्थकेयर (1.24 फीसदी) शामिल रहे। सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच सेक्टरों में एनर्जी (1.01 फीसदी), आईटी (0.87 फीसदी), टेक (0.68 फीसदी), तेल व गैस (0.64 फीसदी) और युटिलिटीज (0.58 फीसदी) शामिल रहे।