Narendra Modi ने ऐतिहासिक जीत के बाद दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की ली शपथ

49

नई दिल्ली ।  लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को अभूतपूर्व जीत दिलाने वाले श्री नरेन्द्र मोदी ने आज लगातार दूसरी बार देश के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली। राष्ट्रपति भवन प्रांगण में आयोजित भव्य समारोह में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें पद और गाेपनीयता की शपथ दिलायी।

इन मंत्रियों ने ली शपथ

– राजनाथ सिंह, अमित शाह, सदानंद गौड़ा, निर्मला सीतारमन और नितिन गडकरी ने गुरुवार को नवगठित केंद्र सरकार में केंद्रीय मंत्री के रूप में शपथ ली।
– प्रकाश जावड़ेकर को राष्ट्रपति ने मंत्री पद की शपथ दिलाई
– नाइक ने राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार के रूप में पद और गोपनीयता की शपथ ली
– सदानंद गौड़ा ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– नरेंद्र सिंह तोमर ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– रविशंकर प्रसाद ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– हरसिमरत कौर बादल ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– थावरचंद गहलोत ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– एस जयशंकर ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– रमेश पोखरियाल निशंक ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– अर्जुन मुंडा ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– स्मृति ईरानी ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– डॉक्टर हर्षवर्धन ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– प्रकाश जावड़ेकर ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– पीयूष गोयल ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– धर्मेंद्र प्रधान ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– मुख्तार अब्बास नकवी ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– प्रह्लाद जोशी ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– शिवसेना के अरविंद सावंत ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– गिरिराज सिंह ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– गजेंद्र सिंह शेखावत ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली
– संतोष गंगवार ने राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पद की शपथ ली
– राव इंद्रजीत सिंह ने राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पद की शपथ ली
– श्रीपद नाइक ने राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पद की शपथ ली
– जितेंद्र सिंह ने राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पद की शपथ ली
– किरण रिजिजू ने राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पद की शपथ ली
– प्रह्लाद पटेल ने राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पद की शपथ ली
– आरके सिंह ने राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पद की शपथ ली
– हरदीप सिंह पुरी ने राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पद की शपथ ली
– मनसुख मांडविया ने राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पद की शपथ ली
– फग्गन सिंह कुलस्ते ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– अश्वनी चौबे ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– अर्जुन राम मेघवाल ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– जनरल वीके सिंह ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– कृष्णपाल गुर्जर ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– रावसाहेब दानवे ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– जी कृष्ण रेड्डी ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– पुरुषोत्तम रुपाला ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– रामदास अठावले ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– साध्वी निरंजन ज्योति ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– बाबुल सुप्रियो ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– संजीव बालियान ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– संजय धोत्रे ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– अनुराग सिंह ठाकुर ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– सुरेश अंगाड़ी ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– नित्यानंद राय ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– रतन लाल कटारिया ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– वी. मुरलीधरन ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– रेणुका सिंह सरुता ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– सोम प्रकाश ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– कैलाश चौधरी ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– प्रताप चंद्र सारंगी ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– रामेश्वर तेली ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली
– देबोश्री चौधरी ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली

इस मौके पर बिम्स्टेक देशों के नेताओं के साथ-साथ विभिन्न राज्यों के राज्यपाल , मुख्यमंत्री, राजनीतिक दलों के अध्यक्ष और कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे। संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी , मुरली मनोहर जोशी, सुषमा स्वराज ,कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और कई अन्य वरिष्ठ नेता भी समारोह में शामिल हुए। रतन टाटा और मुकेश अंबानी सहित उद्योग जगत तथा सिने जगत की कई हस्तियां भी मौजूद थी। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने समारोह में आने से इंकार कर दिया था। समारोह में लगभग 8 हजार लोग उपस्थित थे। पडोसी देशों में से केवल पाकिस्तान को शपथ ग्रहण समारोह में नहीं बुलाया गया था।

इससे पहले श्री मोदी ने सुबह राजघाट जाकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की समाधि ‘सदैव अटल’ पर उन्हें श्रद्धांजलि दी। राष्ट्रीय युद्ध स्मारक जाकर उन्होंने शहीदों को भी नमन किया। श्री मोदी ने वर्ष 2014 में शपथ ग्रहण समारोह में दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संघ देशों के नेताओं को बुलाया था।