COVID 19 in UP : लखनऊ में हालात बेकाबू, प्रदेश सरकार अप्रैल के पहले हफ्ते से लगा सकती है नाइट कर्फ्यू

162
COVID 19 in UP : लखनऊ में हालात बेकाबू, प्रदेश सरकार अप्रैल के पहले हफ्ते से लगा सकती है नाइट कर्फ्यू
COVID 19 in UP : लखनऊ में हालात बेकाबू, प्रदेश सरकार अप्रैल के पहले हफ्ते से लगा सकती है नाइट कर्फ्यू

New Corona Virus infection Increasing COVID-19 in UP : प्रदेश में मार्च में कोरोना वायरस संक्रमण 170 फीसद बढ़ने के बाद प्रदेश की सरकार ने होली तथा अन्य पर्व के साथ पंचायत चुनाव को लेकर हाई अलर्ट घोषित किया है। माना जा रहा है कि सरकार अप्रैल के पहले से नाइट कर्फ्यू भी लगा सकती है। प्रदेश के 20 जिलों में कोरोना संक्रमित लगातार बढ़ रहे हैं। मार्च महीने में संक्रमण 170 प्रतिशत बढ़ने के बाद प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार भी अप्रैल से नाइट कर्फ्यू लगा सकती है।

उत्तर प्रदेश सरकार अप्रैल के पहले हफ्ते से प्रदेश में नाइट कर्फ्यू भी लगा सकती है। सरकार ने इसको लेकर अपनी तैयारी भी शुरू कर दी है। होली के पर्व पर जांच के साथ कांटेक्ट ट्रेसिंग बढ़ा दी गई है। जिलों में कोविड अस्पतालों की संख्या भी लगातार बढ़ाई जा रही है। प्रदेश में 28 फरवरी को 2,104 संक्रमित थे थे और अब यह बढ़कर 5,824 संक्रमित है। मार्च में 170 प्रतिशत मरीज बढ़े है।

सरकार अप्रैल के पहले हफ्ते से लगा सकती है नाइट कर्फ्यू : प्रदेश सरकार कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते नए संक्रमण से फिर लडऩे की तैयारी में है। माना जा रहा है कि अप्रैल के पहले हफ्ते से राज्य में नाइट कर्फ्यू लग जाएगा। होली के अवकाश के कारण सरकार के आदेशों पर 31 मार्च तक सभी स्कूल और कॉलेज बंद हैं। इलाहाबाद हाई कोर्ट के निर्देश पर सभी कोर्ट दो अप्रैल तक बंद हैं।

राजधानी लखनऊ में कोविड वायरस संक्रमण काफी गति पकड़ रहा है। रोज सौ से अधिक नए संक्रमित मिलने से हालात बेकाबू हैं। बीते 24 घंटे में लखनऊ में कोरोना के 347 नए मामले सामने आए हैं। शहर में एक्टिव केस का आंकड़ा 1032 पहुंच गया है। रात में ही आरडीएसओ कॉलोनी में 40 से अधिक संक्रमित मिलने से खलबली मची है।

आगरा व मथुरा में मिला अफ्रीकी स्ट्रेन: आगरा तथा मथुरा से लखनऊ भेजे गए संक्रमितों के सैंपल में कोरोना का अफ्रीकी स्ट्रेन पाया गया है। इस जानकारी के बाद आगरा और मथुरा में खलबली मची है। ब्रज क्षेत्र में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन की दस्तक से लोग हैरान हैं।

आगरा में सात लोगों में कोरोना पॉजिटिव के सैंपल को लखनऊ के केजीएमयू में जांच के लिए भेजा गया था। इनमें से तीन में अफ्रीकी कोरोना स्ट्रेन पाया गया है। मथुरा से भेजे गए सैंपल में बरसाना निवासी व्यक्ति को कोरोना के अफ्रीकी स्ट्रेन की पुष्टि हुई है।

अभी चार लोगों की रिपोर्ट का इंतजार है। ब्रज में पहली बार कुल चार लोगों में अफ्रीकी स्ट्रेन से पीडि़त मिले हैं। इससे पहले आगरा के साथ पास के इलाकों में चीन के वुहान शहर से पहले कोरोना केस स्ट्रेन की पुष्टि होती थी लेकिन पहली बार ऐसा हुआ है।

Please follow and like us: