West Bengal Election 2021 : Assam-Bengal में बंपर वोटिंग,खुशी से झूम रही भाजपा, हैरान कर रहे आंकडे

121

West Bengal Election 2021 First Phase Voting : पश्चिम बंगाल और असम की कुल 77 सीटों पर आज सुबह 7 बजे से पहले फेज की वोटिंग जारी है। इनमें बंगाल की 30 और असम की 47 सीटें शामिल हैं। दोपहर 1 बजे तक यानी शुरुआती 6 घंटे में बंगाल में 54.90% और असम में 37.06% वोटिंग हुई है। मतदान शाम 6 बजे तक चलेगा। कोरोना की वजह से वोटिंग का समय 1 घंटे बढ़ाया गया है।

चुनाव आयोग के मुताबिक इस दौरान शाम 5:20 बजे तक 78.64 फीसदी वोट डाले जा चुके हैं। इस दौरान पूर्व मिदनापुर में 82.42 फीसदी, पश्चिम मिदनापुर में 80.16 फीसदी, पुरुलिया में 77.13 फीसदी, बांकुड़ा में 80.03 फीसदी और झारग्राम में 80.55 फीसदी लोगों ने अपने मत का इस्तेमाल किया।

इस बीच 60 पोलिंग बूथ पर EVM से छेड़छाड़ की शिकायतें सामने आई हैं। कुछ जगह EVM में तकनीकी दिक्कत की वजह से वोटर्स को 2 घंटे तक इंतजार करना पड़ा। उधर बीजेपी ने आरोप लगाया है कि पुरुलिया में TMC कैंडिडेट ने वोटर्स को पैसे बांटे हैं, इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की गई है।

बंगाल के कांथी में बीजेपी नेता सोमेंदु अधिकारी की गाड़ी पर हमला हुआ है। सोमेंदु का आरोप है कि उनकी गाड़ी पर हमले में TMC के ब्लॉक अध्यक्ष राम गोविंद दास का हाथ है। इस हमले में सोमेंदु को चोट तो नहीं आई है, लेकिन उनके ड्राइवर से मारपीट हुई है। इस बारे में उन्होंने पुलिस से शिकायत कर दी है।

TMC सांसद डेरेक ओ’ब्रायन ने चुनाव आयोग को चिट्ठी लिखकर शिकायत की है कि कांथी दक्षिण और कांथी उत्तर सीटों पर सुबह 9.13 बजे तक 18.47% और 18.95% वोटिंग हुई थी, लेकिन अगले 4 मिनट में घटकर 10.60% और 9.40% रह गई। इससे चुनाव आयोग के आंकड़ों पर सवाल उठते हैं।

बीजेपी नेता और शुभेंदु अधिकारी के भाई सोमेंदु अधिकारी ने आरोप लगाया है कि TMC ने बूथ नंबर 149 पर वोटर्स को प्रभावित करने के लिए अलाउद्दीन नाम के आतंकी को लगाया है। इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की गई है।

बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने झरग्राम में वोट डाला। बंगाल और असम में वोटिंग शाम 6 बजे तक चलेगी। कोरोना की वजह से मतदान का समय 1 घंटा बढ़ाया गया है।

बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने झरग्राम में वोट डाला। बंगाल और असम में वोटिंग शाम 6 बजे तक चलेगी। कोरोना की वजह से मतदान का समय 1 घंटा बढ़ाया गया है।

मिदनापुर में 2 जगहों से हिंसा की खबर
पूर्वी मिदनापुर के भगवानपुर विधानसभा इलाके के सतसतमल में फायरिंग की घटना हुई है। इसमें दो सुरक्षाबल घायल हो गए। बीजेपी के जिला अध्यक्ष अनूप चक्रवर्ती ने TMC कार्यकर्ताओं पर आरोप लगाते हुए कहा है कि इलाके के लोगों को डराने की कोशिश की जा रही है। वहीं पश्चिमी मिदनापुर के सालबोनी में माकपा उम्मीदवार सुशांत घोष पर हमले की खबर है। यहां भी हमले का आरोप TMC कार्यकर्ताओं पर लगा है।

मिदनापुर की जिन 13 सीटों पर आज वोटिंग हो रही है, इन पर TMC से बीजेपी में आए शुभेंदु अधिकारी का दबदबा माना जाता है। इधर, असम में पहले फेज में ही मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल मैदान में हैं। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दोनों राज्यों के वोटर्स खासकर युवाओं से सोशल मीडिया के जरिए अपील की है कि वे ज्यादा से ज्यादा संख्या में वोट डालने पहुंचें।

असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने वोट डालने से पहले डिब्रूगढ़ की बोगा बाबा मजार पर प्रार्थना की। वोट डालने के बाद उन्होंने कहा कि भाजपा 100 से ज्यादा सीटें जीतेगी।

असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने वोट डालने से पहले डिब्रूगढ़ की बोगा बाबा मजार पर प्रार्थना की। वोट डालने के बाद उन्होंने कहा कि भाजपा 100 से ज्यादा सीटें जीतेगी।

बंगाल और असम की 77 सीटों पर कुल 455 प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। दोनों राज्यों में मिलाकर 1.54 करोड़ मतदाता इन प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। बंगाल में पिछले कुछ दिनों में हुई हिंसा की घटनाओं के बाद चुनाव आयोग भी सख्त नजर आ रहा है। दोनों राज्यों में भारी तादाद में पुलिस बल तैनात किया गया है। बंगाल में केंद्रीय पुलिस बल की 730 कंपनियां तैनात की गई हैं। एक कंपनी में 100 पुलिसकर्मी हैं। यानी बंगाल में पहले फेज के दौरान सुरक्षा की कमान 73,000 पुलिसकर्मियों के हाथों में है।

बंगाल में 21 महिलाएं चुनावी मैदान में
बंगाल की 294 सीटों में से 30 सीटों पर चुनाव हो रहा है। इन पर 191 प्रत्याशी मैदान में हैं। इसमें 21 महिलाए हैं। बंगाल में पहले फेज में 73,80, 942 मतदाता वोटिंग करेंगे। इसमें 37,52,938 पुरुष और 36,27,949 महिलाएं हैं। वोटर्स में 55 थर्ड जेंडर भी शामिल हैं। इस फेज में 1,23,393 ऐसे व्यक्ति वोट करेंगे, जिनकी उम्र 80 से 90 के बीच है। चुनाव में 40,408 दिव्यांग भी मतदान करेंगे।

पहले फेज के लिए बंगाल में 10,288 पोलिंग बूथ बनाए गए हैं। बंगाल में केंद्रीय पुलिस की 92 कंपनी बांकुरा, 169 पूर्वी मेदिनीपुर, 139 पश्चिम मेदिनीपुर, 186 पुरुलिया और 144 झारग्राम में तैनात की गई हैं। 2019 लोकसभा चुनाव की बात करें तो इन 30 सीटों में से 20 सीटों पर भाजपा ने बढ़त बनाई थी, जबकि TMC 10 सीटों पर ही आगे रही थी।

पहले चरण में असम के CM भी लड़ रहे चुनाव
पहले चरण में असम की 126 में से 47 सीटों पर चुनाव है। इन पर 264 प्रत्याशी मैदान में हैं। पहले फेज में मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल मजुली से चुनाव लड़ रहे हैं। उनका मुकाबला कांग्रेस के पूर्व मंत्री राजीव लोचन पेगु से है। इस चरण में स्पीकर हितेंद्रनाथ गोस्वामी जोरहाट विधानसभा क्षेत्र से मैदान में हैं। उनका मुकाबला पूर्व कांग्रेस विधायक राना गोस्वामी से है।

कांग्रेस अध्यक्ष रिपुन बोरा भी नजीरा और गोहपुर से चुनाव लड़ रहे हैं। एक और हाईप्रोफाइल सीट टिटाबोर है। जिस पर बीजेपी के सिटिंग विधायक हेमंत कलिता और कांग्रेस के भास्कर ज्योति बरुआ का मुकाबला है। इस सीट से पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई चार बार जीते हैं। असम में बीजेपी और कांग्रेस गठबंधन के अलावा असम जातीय परिषद भी मैदान में है।

Please follow and like us: