इस गांव में खून की ही बाढ़ आ गयी ?

298
इस गांव में खून की ही बाढ़ आ गयी ?
Photo Credit Social Media

पेकलोंगन शहर पारंपरिक इंडोनेशियाई डाईंग तकनीक में इस्तेमाल होने वाली बाटीक के उत्पादन के लिए जाना जाता है। इसमें कपड़ों पर पैटर्न बनाए जाते हैं। जेंगगॉट नाम का यह गांव पेकलोंगान, इंडोनेशिया के जावा के केंद्रीय इलाके में पड़ता है। पेकलोंगान के दक्षिण में स्थित यह क्षेत्र परंपरागत तौर पर डाई और वैक्स के लिए मशहूर है।

इस गांव में खून की ही बाढ़ आ गयी ?
Photo Credit Social Media

सोशल मीडिया यूजर्स ने सैंकड़ों यूजर्स ने ये तस्वीरें शेयर की हैं। इंडोनेशिया के एक गांव में बाढ़ का जो पानी पूरे गांव में फैला वो खून जैसा लाल रंग का पानी था। दरअसल बाढ़ की वजह से पानी सबसे पहले कपड़े डाई करने वाली (रंग करने वाली) एक फैक्ट्री में घुसा और इसके बाद पूरे गांव में मानो ऐसा लगा कि खून की ही बाढ़ आ गई है।

इस गांव में खून की ही बाढ़ आ गयी ?
Photo Credit Social Media

स्थानीय अधिकारी दिमास आर्गा युदा ने समाचार एजेंसी रॉयटर्स से कहा, डाई की वजह से लाल रंग का पानी दिख रहा है. डाई की फैक्ट्री में बाढ़ का पानी घुसने से ऐसा हुआ है। बारिश होने के बाद यह लाल रंग भी धीरे-धीरे खत्म हो जाएगा।

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक पेकलोंगान में पहले भी नदियाँ कपड़ों पर किए जाने वाले  बैटिक डिजाइन में उपयोग की जाने वाली रंग की वजह से रंगीन हो चुकी है। पिछले महीने ही एक अन्य गांव में नदी का पानी हरे रंग का हो गया था।

इंडोनेशिया के कई इलाके अक्सर बाढ़ की चपेट में आ जाते हैं। इस साल की शुरुआत में राजधानी जकार्ता में आए एक तूफान में कम से कम 43 लोग मारे गए थे।

Please follow and like us: