कुंडली बॉर्डर पर पकड़े गए योगेश का वीडियो इंटरनेट पर वायरल, बताया किसान नेताओं ने मारपीट कर जबरन मीडिया के सामने दिलवाया बयान

127
कुंडली बॉर्डर पर पकड़े गए योगेश का वीडियो इंटरनेट पर वायरल, बताया किसान नेताओं ने मारपीट कर जबरन मीडिया के सामने दिलवाया बयान
कुंडली बॉर्डर पर पकड़े गए योगेश का वीडियो इंटरनेट पर वायरल, बताया किसान नेताओं ने मारपीट कर जबरन मीडिया के सामने दिलवाया बयान

नई दिल्ली। किसान नेताओं ने जिस युवक को शूटर बताया था वह चंद घंटों बाद ही अपने बयान से पलट गया है। और बताया कि किसान नेताओं ने के दबाव में ही उसने पत्रकारों से बातचीत की थी। योगेश खुद को 9 क्लास फेल बता रहा है और फिलहाल सोनीपत डीएसपी हंसराज के नेतृत्व में पुलिस पूछताछ कर रही है। योगेश का कहना है कि उसे किसानों ने कैंप में ले जाकर मारा। फिर रात को शराब पिलाकर कहा कि हम जो बोलेंगे वही बोलना पड़ेगा।

सुबह इंटरनेट मीडिया पर वायरल एक वीडियो में योगेश ने दावा किया है कि उसने यह बयान किसान नेताओं के दबाव में दिया है। इस युवक का नाम योगेश है और इसकी उम्र लगभग 19 साल बताई जा रही है। योगेश ने शुक्रवार को पत्रकार वार्ता के दौरान पहले अपनी उम्र 24 बताई फिर 21। यह भी पता चला है कि योगेश हरियाणा के सोनीपत का रहने वाला है।

पुलिस जांच में पता चला है कि हरियाणा के कुंडली बॉर्डर से शुक्रवार को पकड़ा गया युवक सोनीपत के ही न्यू जीवन नगर का रहने वाला है। युवक से अपराध जांच शाखा की टीम लगातार पूछताछ कर रही है। वहीं, युवक ने शुक्रवार रात को पत्रकार वार्ता के दौरान 4 किसानों की हत्या की साजिश से लेकर राई थाना के एसएचओ प्रदीप का नाम लिया था। किसानों का आरोप था कि कुछ युवक उनके आंदोलन को बदनाम करने के साथ ही चार किसान नेताओं की हत्या कराने की साजिश रच रहे हैं।

सोनीपत पुलिस योगेश से लगातार पूछताछ कर रही है और योगेश के दावों के सत्यापन में जुटी हुई है। इसके लिए पुलिस की टीमों को गठन किया गया है। एक पुलिस दिल्ली में तो दूसरी उत्तराखंड रवाना की गई है। वहीं अब आरोपी युवक का भी एक वीडियो सामने आया है, जिसमें युवक कह रहा है कि किसानों ने टेंट में ले जाकर रातभर पिटाई की। इस दौरान किसानों ने योगेश पर दबाव बनाते हुए कहा वह जैसे कहेंगे, वैसा करना होगा, वरना पिटाई होगी। योगेश ने दावा किया है कि किसान नेताओं ने उसे शराब पिलाई फिर कपड़े उतारकर मारा गया। इस दौरान बात नहीं मानने पर किसान नेताओं ने जान से मारने की धमकी भी दी।

वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि युवक मीडिया के सामने जब कुछ लाइने भूल जाता तो बगल में बैठे टिकैत उसे वह लाइन याद दिलाते है। इससे साफ जाहिर होता है युवक से जबरन बयान दिलवाया जा रहा है। जिससे सरकार और पुलिस की बदनामी हो।

Please follow and like us: