महादेव मंदिर के पुजारी की बेरहमी से की हत्या,आरोपी अरेस्‍ट

199
महादेव मंदिर के पुजारी की हुई बेरहमी से हत्या,आरोपी अरेस्‍ट
Demo Pic

लखनऊ। राजधानी के बीकेटी थाना क्षेत्र में आने वाले शिवपुरी ग्राम स्थित रण बाबा महादेव मंदिर के पुजारी की हुई हत्या के मामले में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने पिछले दिनों मंदिर से डेढ़ कुंटल के घंटों की चोरी वाली वारदात का भी पुलिस के सामने खुलासा किया है। पुजारी की हत्या मंगलवार रात को हुई थी।

मंगलवार देर रात लखनऊ के बीकेटी थाना क्षेत्र में बने रण बाबा मंदिर के 82 साल के पुजारी बाबा फकीरे दास की निर्मम तरीके से हत्या कर दी गई थी। बुधवार सुबह ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज कर हत्या का खुलासा करने के लिए जांच टीमें लगा दी थीं। पुलिस टीम को घटना स्थल पर खून से लथपथ ईट का टुकड़ा भी बरामद हुआ था।

महादेव मंदिर के पुजारी की हुई बेरहमी से हत्या,आरोपी अरेस्‍ट

एसपी ग्रामीण ह्यदेश कुमार ने बताया कि पुजारी की हत्या के बाद इलाके के रहने वाले कामता प्रसाद ने शिवपुरी निवासी रामचंद्र पर हत्या की आशंका जताते हुए क्षेत्रीय थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने क्षेत्रीय लोगों की आशंका को गंभीरता से लेते हुए जांच की। आरोपी को पकड़ कर जब कड़ाई से पूछताछ की गई तो तो उसने अपना गुनाह कबूला।

पुलिस के मुताबिक, गिरफ्त में आया रामचंद्र पिछले कई सालों से रण बाबा मंदिर में किराना, प्रसाद आदि की दुकान खोलकर उसी में रहता था। इसके साथ ही रामचंद्र को मंदिर की सफाई की भी जिम्मेदारी थी। आरोपी ने पुलिस को बताया कि पिछले दिनों उसने तकरीबन डेढ़ क्विंटल के मंदिर के घंटे मंदिर से चुराकर जमीन में गड़वा दिए थे, जिसकी जानकारी मंदिर के पुजारी और अन्य लोगों को हो गई थी। इस पर घंटों को जमीन से निकलवा कर सभी की सहमति से ग्राम प्रधान के यहां रखवा दिया गया था। इस बात से नाराज होकर मंदिर के पुजारी ने रामचंद्र को मंदिर के कामकाज से अलग कर दिया था। इतना ही नहीं, इससे पहले भी रामचंद्र मंदिर में प्रतिदिन दान में आए पैसों का अपने निजी काम में उपयोग करता था। इसी बात को लेकर बाबा उससे नाराज रहने लगे थे।

सीओ डॉ. हृदेश कठेरिया ने पूरे घटनाक्रम की जानकारी देते हुए बताया कि मंगलवार रात रामचंद्र गांजा पीने बाबा फकीरे दास के पास मिलने आया। इसी दौरान रामचंद्र ने बाबा के सिर पर ईंट मार कर उनकी हत्या कर दी और नशे की हालत में वहां से फरार हो गया। पुलिस टीम ने आरोपी को कठवारा माल रोड पर स्थित गोमती नदी के मांझी घाट पुल के पास से गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ के दौरान आरोपी रामचंद्र ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया, जिसके बाद उसे जेल भेज दिया गया।

Please follow and like us: